Body Care Archive

एचआईवी एड्स के लक्षण और 4 मुख्य स्टेज

जैसा की हमने पिछले पोस्ट में बताया था की एड्स का वायरस अपने आप कोई रोग पैदा नहीं करता है वो केवल रोगी के शरीर को इतना कमजोर कर देता है की उसकी रोग प्रतिरोधक ताकत खत्म हो जाती है और अंत में मरीज किसी भी अन्य बीमारी से मारा जाता है | इसलिए देखा

जानिए एच.आई.वी एड्स कैसे होता है, कारण

एड्स की जानकारी :- एड्स दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारी बन चुकी है। शहर और यहाँ तक कि गाँव भी रोग से अछूते नहीं बचे हैं। दुनिया में रोजाना लगभग 16 हजार व्यक्ति एड्स संक्रमण के शिकार बन रहे हैं। आज दुनिया में साढ़े चार करोड़ से अधिक और भारत में पच्चीस लाख के ऊपर

पथरी में क्या नहीं खाना चाहिए : परहेज

खानपान और अनियमित दिनचर्या के कारण काफी लोग पथरी की बीमारी से पीड़ित है, पिछले पोस्ट में हमने बताया था की पथरी में क्या खाना चाहिए इस पोस्ट में परहेज के बारे में बतायेंगे | पथरी में कुछ चीजे खानी फायदेमंद होती है, तो कुछ चीजे खाने से परहेज करना चाहिए इसलिए पथरी के मरीज

पथरी में क्या खाना चाहिए : किडनी स्टोन में भोजन

पथरी में खानपान को लेकर विशेष सावधानी की जरुरत होती है इसलिए इस लेख में यह विस्तार से बताया गया है की पथरी या किडनी स्टोन में क्या खाना चाहिए | इससे अगले पोस्ट में यह हम बतायेंगे की पथरी के मरीजो को क्या नहीं खाना चाहिए और किन चीजो का परहेज रखना चाहिए |

थायराइड में क्या खाएं और क्या न खाएं

थायराइड में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए” इसका बहुत महत्त्व होता है, जैसा की हमने पहले भी कई बार आपको इस बात से अवगत करवाया है की किसी भी रोग को ठीक करने में जितना महत्त्व सही दवाई का है उतना ही महत्त्व सही खान पान का भी है, इसलिए हमने बहुत

खून की कमी (एनीमिया) : कारण, लक्षण और उपाय

खून की कमी (एनीमिया) काफी लोगो को होती हैं खासकर स्त्रियों को तो बहुत बड़े पैमाने पर यह समस्या होती है। क्या है खून की कमी : जब शरीर के रक्त की लाल कोशिकाओं (सेल्स) में हीमोग्लोबिन नामक पदार्थ का स्तर सामान्य स्तर से नीचे हो जाता है, तो उस अवस्था की रक्ताल्पता यानि खून

हैजा कारण, लक्षण और बचाव के उपाय

हैजा (Cholera) आंतों में होने वाला इंफेक्शन, जिसे गंभीरता से ना लिया जाए तो जानलेवा भी हो सकता है। यह एक एक संक्रामक रोग है जो अकसर दूषित खाने और पीने से होता है | पीने के पानी के पाईप गंदी नालियों में होकर जाने से गंदगी पानी के साथ प्रवेश कर जाती है। अब

टाइफाइड में क्या खाएं और टाइफाइड में परहेज

टाइफाइड में सही खानपान ना सिर्फ मरीज को इस बुखार से जल्दी छुटकारा दिलाने में मदद करता है बल्कि इससे होने वाली कमजोरी को दूर करने में भी बहुत लाभदायक है | टाइफाइड को मोतीझरा, मौक्तिक ज्वर, मियादी बुखार या आंत्र ज्वर जैसे कई नामो से जाना जाता है, इसके प्रमुख कारण, लक्षण और बचाव

टाइफाइड के लक्षण, कारण और बचाव के उपाय

टाइफाइड अथवा मोतीझरा क्या है – वैसे तो इस बुखार से प्राय: सभी लोग परिचित रहते हैं। यह एक लंबे समय तक परेशान करने वाला ऐसा बुखार है, जो व्यक्ति को कमजोर और चिड़चिड़ा बना देता है। यह रोग एस. टायफी या पेराटायफी नामक रोगाणुओं द्वारा फैलता है। यह मलमूत्र द्वारा दूषित भोजन या पानी

काली खांसी इलाज के 15 घरेलू उपाय – कुकुर खांसी

काली खांसी को (कूकर खांसी, कुक्कुर खांसी, कुकुर खांसी) (Whooping cough) भी कहा जाता है। यह एक संक्रामक बीमारी है ज्यादातर 5 से 15 वर्ष आयु तक के बच्चों को होती है। | काली खांसी के लक्षण : काली खांसी होने पर रोगी जोर-जोर खांसते हुए कई बार उल्टियाँ भी करने लगता है | काली