Author Archive

टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज के कारण, लक्षण

डायबिटीज मुख्यत दो प्रकार की होती है – टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज। इस पोस्ट में हम इंसुलिन निर्भर डायबिटीज और बिना इंसुलिन निर्भर डायबिटीज यानि टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज के कारण लक्षण और उपलब्ध उपचार की जानकारी देंगे | परंतु सबसे पहले डायबिटीज का एक संक्षेप परिचय जान लेते है |

नींबू पानी पीने के फायदे और 4 टॉनिक बनाने की विधि

नींबू पानी या नींबू शरीर के स्वस्थ विकास के लिये बहुत आवश्यक तत्व है। नींबू में मौजूद विटामिन सी दूसरे कई विटामिनों के साथ मिलकर शरीर को स्वस्थ रखने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके साथ ही त्वचा को स्वस्थ रखने में तथा शरीर को विपरीत परिस्थितियों में रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करने में

पथरी में क्या खाना चाहिए : किडनी स्टोन में भोजन

पथरी में खानपान को लेकर विशेष सावधानी की जरुरत होती है इसलिए इस लेख में यह विस्तार से बताया गया है की पथरी या किडनी स्टोन में क्या खाना चाहिए | इससे अगले पोस्ट में यह हम बतायेंगे की पथरी के मरीजो को क्या नहीं खाना चाहिए और किन चीजो का परहेज रखना चाहिए |

नींबू के फायदे और गुण तथा 50 घरेलू नुस्खे

नींबू के औषधीय गुणों का फायदा हर मौसम में उठाया जा सकता है। यह बदलते मौसम के अनुरूप अपने गुणों को समायोजित कर मौसम से जुडी मोटी बीमारियों और दोषों से बचाता है। नींबू का मुख्य कार्य शरीर के खराब तत्वों को नष्ट कर उन्हें बाहर निकालना है। यह मुँह के स्वाद को ठीक करके

थायराइड में क्या खाएं और क्या न खाएं

थायराइड में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए” इसका बहुत महत्त्व होता है, जैसा की हमने पहले भी कई बार आपको इस बात से अवगत करवाया है की किसी भी रोग को ठीक करने में जितना महत्त्व सही दवाई का है उतना ही महत्त्व सही खान पान का भी है, इसलिए हमने बहुत

मूली के फायदे और 35 औषधीय गुण

मूली के फायदे (Radish health benefits) – सलाद और सब्जी के रूप में मूली का उपयोग सभी जगह खूब होता है। मूली जमीन के भीतर कंद के रूप में उत्पन्न होती है। जमीन के ऊपर मूली के हरे-हरे पत्ते दिखाई देते हैं। मूली में प्रोटीन, कैल्शियम, आयोडीन और आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

खून की कमी (एनीमिया) : कारण, लक्षण और उपाय

खून की कमी (एनीमिया) काफी लोगो को होती हैं खासकर स्त्रियों को तो बहुत बड़े पैमाने पर यह समस्या होती है। क्या है खून की कमी : जब शरीर के रक्त की लाल कोशिकाओं (सेल्स) में हीमोग्लोबिन नामक पदार्थ का स्तर सामान्य स्तर से नीचे हो जाता है, तो उस अवस्था की रक्ताल्पता यानि खून

टाइफाइड में क्या खाएं और टाइफाइड में परहेज

टाइफाइड में सही खानपान ना सिर्फ मरीज को इस बुखार से जल्दी छुटकारा दिलाने में मदद करता है बल्कि इससे होने वाली कमजोरी को दूर करने में भी बहुत लाभदायक है | टाइफाइड को मोतीझरा, मौक्तिक ज्वर, मियादी बुखार या आंत्र ज्वर जैसे कई नामो से जाना जाता है, इसके प्रमुख कारण, लक्षण और बचाव

दुल्हन मेकअप करने की विधि: पार्ट -2

पिछले पोस्ट में हमने दुल्हन मेकअप की पूरी जानकारी दी थी आप सभी ने उसको बहुत सराहा था, इसके लिए धन्यवाद | इस आर्टिकल में हम उस पुराने पोस्ट (जाने कैसे करे दुल्हन का मेकअप ) से जुड़े कुछ सवालों और शंकाओ को ध्यान में रखते हुए कुछ नए टिप्स जोड़ कर दुल्हन के मेकअप की

जानिये पीलिया रोगी का डाइट चार्ट

पीलिया रोगी का डाइट चार्ट बहुत अहम् होता है क्योंकि इस रोग में खानपान की काफी अहमियत होती है, सही खानपान के जरिये इस रोग से जल्द ही निजात मिल जाती है, जैसा की हमने पिछले पोस्ट में बताया था इसलिए इस पोस्ट में हम आपको बता रहे है पीलिया रोगी का डाइट चार्ट जो