जानिए 5 हर्बल ड्रिंक रेसेपी – ताजगी और स्फूर्ति के लिए

इस पोस्ट में बताई गई है पांच हर्बल ड्रिंक रेसेपी जो आपके शरीर को ऊर्जा से भर देगी और बनाने में भी आसान है | एक स्वस्थ शरीर के लिए यह बहुत जरुरी होता है की सभी प्रकार के विटामिन और खनिज शरीर में उपयुक्त मात्रा में बने रहे इस बात को हमने अपने संतुलित

मेथी के फायदे और 30 गुणकारी औषधीय उपयोग

मेथी (Fenugreek Seeds) लेटिन में (Trigonella Foenum-Graecum) – मेथी के हरे-हरे पत्ते और मेथी दाना दोनों ही बहुत गुणकारी और पौष्टिक होते है | मेथी दाना और मेथी के हरे पत्तों के गुण समान है। इनमें से कोई भी प्रयोग कर सकते हैं। मेथीदाना पोषक एवं प्रभावकारी होने के कारण, इसके औषधीय गुणों को एक

दालचीनी के औषधीय उपयोग और 27 घरेलू उपाय

दालचीनी (Cinnamon) का पौधा जितना छोटा है इसके गुण उतने ही बड़े हैं। यह भारत के दक्षिणी भागों और श्रीलंका में थोड़ी ऊंचाई वाली पहाड़ियों पर पैदा होती है। यूरोप और मिश्र आदि देशों में भी इसकी पैदावार होती है। इसमें अनेक औषधीय गुण हैं। प्रोटीन, वसा, रेशा, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फास्फोरस, विटामिन बी, सी काफी

गठिया रोग में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं

गठिया रोग (Arthritis) या संधिशोथ इस बीमारी में रोगी को बहुत दर्द होता है मुड़ने में काफी दिक्कतें आती हैं। सर्दियों में इस रोग का प्रकोप अधिक होता है। गठिया रोग में खानपान की भी बहुत अहमियत होती है क्योंकि यह लंबे समय तक चलने वाला रोग है इसलिए सिर्फ दवाइयों के सहारे आप इस

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए क्या खाएं -Improve Eyesight

आंखें कुदरत का बहुत कीमती तोहफा है, लेकिन आजकल के प्रदूषित पर्यावरण में कई चीज़ें ऐसी हैं जो आंखों की रोशनी कम होने की वजह बन जाती हैं लेकिन सही आहार लेने से हम अपनी आंखों की रोशनी को धुंधली पड़ने से बचा सकते है | आँखों से कम दिखने का मुख्य कारण मैकुलर डिजनरेशन

इसबगोल के औषधीय गुण और घरेलू नुस्खे

इसबगोल एक पौधे के रूप में होता है | इसका पौधा ढाई फुट से ऊंचा नहीं होता है। पौधे पर गेहूं की बालों की तरह सफेद फूल लगते हैं। इन फूलो में बीज होते हैं। ये बीज भूसी की तरह के होते हैं। इन बीजों को छीलने से इसबगोल निकलती है। आमतौर पर यह इसबगोल

पतंजलि आयुर्वेदिक दवाइयाँ -सफेद दाग, सोरायसिस, मुहांसे

जानिए त्वचा रोगों के उपचार के लिए बाबा रामदेव की  उपलब्ध पतंजलि आयुर्वेदिक दवाइयाँ के बारे में | साथ ही यह जानिए की इन औषधियों का सेवन कैसे करें और क्या परहेज रखें | इस लेख में निम्नलिखित बीमारियों के लिए आयुर्वेदिक औषधियां बताई गई है | सफेद दाग/ शिवत्र (Leucoderma/ Vitiligo) सोरायसिस /सिरोसिस और

शहद और नींबू के फायदे स्वास्थ्य और सौंदर्य के लिए

आयुर्वेद में कहा जाता है कि पेट में खराब पदार्थों का उत्पादन होता है जिनके ना निकलने से बाद में वो विभिन्न बीमारियों के कारण बन जाते हैं। शहद और नींबू के साथ गर्म पानी पीने से पेट से अमा या विषाक्त पदार्थ निकल जाते है | और यह शरीर को पोषक तत्वों (nutrients) को

गिलोय के फायदे और 28 बेहतरीन औषधीय गुण

आयुर्वेद के अनुसार अधिकांश मनुष्य वात विकारों से पीड़ित होते हैं और गिलोय के रस और पत्तियों में वात विकारों को दूर करने की गुणकारी औषधि होती है। इसको कई नामों से जाना जाता है जैसे अमृता, गुडुची, छिन्नरुहा, चक्रांगी, आदि | गिलोय की बेल घरों के बाहर, बाग-बगीचों में लगाई जाती है। गिलोय की

अस्थमा या दमे में क्या खाना चाहिए, क्या नहीं

लगातार बढ़ते प्रदूषण, मौसम में बदलाव और शहर प्रदूषण से सांस संबंधी बीमारियों जैसे अस्थमा और फेफड़ो सम्बंधी अन्य बिमारियों के मरीजों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है। अस्थमा की बीमारी में मरीज की सांस की नलियों की पेशियों में जकड़न-भरा संकोच पैदा होता है, तो मरीज को सांस लेने में काफी परेशानियों का