अम्लता (अम्लपित्त) बीमारी को दूर करने के लिए घरेलू आयुर्वेदिक उपाय

अम्लता जिसे एसिडिटी भी कहते है यह एक ऐसी स्थिति है, जिसमें शरीर के तरल पदार्थ में अम्ल की मात्रा अधिक हो जाती है। सामान्य तौर पर शरीर के तरल पदार्थों में 20 प्रतिशत अम्ल और क्षार का संतुलन रहता है। सामान्य रूप से स्वस्थ व्यक्ति …

PCOD पीसीओडी बीमारी क्या है? कारण, लक्षण तथा आधुनिक उपचार

पॉलिसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम/पी.सी.ओ.एस./PCOD -Polycystic Ovarian Syndrome लक्षणों के एक समूह को कहते हैं, जिसमें एक लक्षण यह भी है कि ओवरी में अनेकों छोटे-छोटे सिस्ट (गांठे) दिखते हैं, जिनके कारण यह नाम पड़ा है। हालाँकि पॉलिसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम में सिस्ट का होना आवश्यक नहीं है और …

मासिक धर्म में असामान्य या अधिक रक्तस्राव होने के कारण तथा जाँच

मासिक धर्म में असामान्य या अधिक रक्तस्राव होने के कई कारण हो सकते है, सामान्य मासिक चक्र 28 दिनों का होता है। इससे सात दिन कम या सात दिन अधिक का चक्र भी सामान्य ही माना जाता है। सामान्य मासिक स्राव में प्रतिमाह रक्त की मात्रा …

आयुर्वेद से करे हाइपर एसिडिटी की छुट्टी जानिए इसका आयुर्वेदिक इलाज

आज के भागदौड़ वाली जिंदगी में लगभग हर व्यक्ति हाइपर एसिडिटी यानि अम्लपित्त या GERD से परेशान हैं। खाली पेट ज्यादा देर तक रहने से या अधिक तला भुना खाना खाने के बाद खट्टी डकार व पेट में गैस आदि बनने लगती है। एसिडिटी होने पर …

पीठ दर्द क्यों होता है कमर दर्द के मुख्य कारण

पीठ दर्द एक ऐसा शब्द है जो आसानी से किसी भी घर में सुना जा सकता है। यह तेजी से पूरी दुनिया में परेशानी का कारण बनता जा रहा है। इसकी अनेक वजह हो सकती हैं पर हमारी खराब ‘जीवन-शैली’ इसकी सबसे बड़ी वजह है। इसके …

जानिए पुरुषो तथा स्त्रियों में बांझपन के प्रमुख कारण -Infertility Causes

बांझपन अर्थ – इसको अंग्रेजी में इनफर्टिलिटी कहा जाता है जिसका मतलब होता है संतान पैदा करने में असमर्थता यह समस्या स्त्री और पुरुष दोनों में हो सकती है | राजनन और संतानोत्पत्ति सृष्टि की रचना के साथ चला आ रहा है। संतानोत्पत्ति न कर पाने …

सर्दी के मौसम में खजूर खाने के फायदे

खजूर में शक्कर की मात्रा अधिक होती है जो आसानी से पच जाती है, मोटापा नहीं बढ़ाती। यह चीनी से अधिक लाभदायक होती है। दूध और खजूर दोनों एक साथ खाने से यह सम्पूर्ण भोजन का काम करता है। गर्भावस्था में रोजाना खजूर खाने से गर्भस्थ …

ब्लैडर कैंसर के कारण, लक्षण तथा आधुनिक इलाज -Urinary Bladder Cancer

मूत्राशय का कैंसर यानि ब्लैडर में कैंसर होने के बारे में कम ही लोग जानते हैं। यह एक गम्भीर रोग होता है। इसके रोगी को शारीरिक व मानसिक कष्ट सहन करना होता है | प्रति एक लाख की आबादी में भारतवर्ष में तीन से पांच पुरुषों …

वयस्कों में टीकाकरण के बारे में जानकारी तथा टीकाकरण क्यों आवश्यक है ?

शरीर को संक्रमण और रोगों से बचाने का सबसे सुरक्षित और सुविधाजनक उपाय है टीकाकरण. पैरेंट्स होने के नाते हम सभी समय-समय पर अपने बच्चों का टीकाकरण करवाते हैं, लेकिन जब बात बड़ों की सेहत की होती है, तो हम लापरवाह हो जाते हैं, जबकि बड़ों …

ल्यूकोरिया में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं : श्वेत प्रदर रोग में भोजन

ल्यूकोरिया में रोगी का सही भोजन :- अपने पिछले 2 आर्टिकल में हमने श्वेत प्रदर यानि ल्यूकोरिया बीमारी होने के प्रमुख कारण, लक्षण तथा इस बीमारी से छुटकारा पाने के लिए घरेलू आयुर्वेदिक इलाज के उपाय भी बताये थे | इस आर्टिकल में हम ल्यूकोरिया में …

ल्यूकोरिया की आयुर्वेदिक दवा : श्वेत प्रदर, सफ़ेद पानी का इलाज

श्वेत प्रदर या ल्यूकोरिया एक अत्यंत आम स्त्री रोग है. इस के अनेक कारण हैं। और इस से असंख्य महिलाएं पीड़ित हैं. योनि मार्ग से सफेद पानी स्राव को ‘श्वेत प्रदर’ कहा जाता है, मगर इस में रक्त की एक बूंद भी शामिल नहीं होनी चाहिए. …

श्वेत प्रदर, ल्यूकोरिया, सफेद पानी आने के कारण, लक्षण तथा बचाव के उपाय

श्वेत प्रदर या लिकोरिआ या ल्यूकोरिया (Leukorrhea) अथवा “सफेद पानी आना” मासिक धर्म स्त्री के लिए प्राकृतिक तथा स्वाभाविक प्रक्रिया होती है। जब इसमें गड़बड़ी हो जाए तथा अनियमितता सहन करनी पड़े, तो यह बड़ा रोग बन जाता है। श्वेत प्रदर एक बीमारी है, इसलिए बिना छिपाए …

कंजक्टिवाइटिस रोग : आँख में कीचड़ आने के कारण, लक्षण तथा बचाव के उपाय

कंजक्टिवाइटिस यानी कि आंख की बाहरी झिल्ली और पलक के भीतरी हिस्से में सूजन या संक्रमण होना कंजक्टिवाइटिस आँखों को ढकेलने वाली पतली झिल्ली ‘कंजेक्टिवा’ की सूजन के कारण होती है। साधारण बोलचाल की भाषा में इसे ‘आँख आने की बीमारी’ कहा जाता है। कंजंक्टाइवा, वास्तव …

भूख बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपाय तथा घरेलू नुस्खे

भूख (Appetite) जिसे भूख अच्छी लगती है, उसका स्वास्थ्य अच्छा रहता है। जिसे लम्बी आयु प्राप्त करनी है उनकी भूख भी तेज़ होनी चाहिए। हमारे शरीरिक और मानसिक विकास के लिए उसे पूरा पोषण मिलना बहुत जरूरी होता है | और यह उसे पौष्टिक आहार खाने …

पेट के रोगों के लिए होम्योपैथिक दवा : एसिडिटी, बदहजमी, गैस, कब्ज

सभी के साथ पेट के रोग एक आम समस्या है। शायद ही कोई व्यक्ति ऐसा हो, जिसे कभी-न-कभी पेट में दर्द न हुआ हो। लेकिन आपको यह जानकर ताज्जुब होगा कि पेट का दर्द अपने-आपमें कोई बीमारी नहीं है, यह तो तमाम बीमारियां अलग-अलग तरह के …

निमोनिया बुखार के लक्षण, कारण तथा बचाव की जानकारी

निमोनिया बुखार (या न्यूमोनिया) बहुत खतरनाक होता है। यह खांसी तथा तेज़ बुखार के साथ आता है। निमोनिया में एक या दोनों फेफड़े रोगग्रस्त हो जाते हैं। निमोनिया का रोग जानलेवा भी हो सकता है, अतः इसकी जानकारी तथा इलाज जल्द से जल्द होना चाहिए। निमोनिया …

सब्जी को बनाये और अधिक हेल्दी इन उपायों द्वारा-Healthy cooking tips

यह ठीक है कि स्वादिष्ट सब्जी तथा पकवान बनाना सबसे बड़ी कला है लेकिन अगर आप इसे व्यवस्थित तरीके से और स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर ना बनाएं तो आपकी सारी मेहनत पर पानी फिर जाएगा, इसलिए अच्छा  भोजन बनाने की कला के साथ-साथ उसको स्वास्थ्य …

गैस में क्या खाना चाहिए : पेट में गैस की समस्या का समाधान

आजकल पेट में गैस और अफारा एक आम रोग बन गया है। जिसे देखिए वही गैस की समस्या से पीड़ित है। पेट में गैस बनती है पर कभी यह सिर में चढ़ जाती है, कभी हृदय पर दबाव डालती है, कभी जोड़ों में फंसकर उन्हें पीड़ाग्रस्त …