मोटापा कम करने के उपाय-Get Rid of Obesity

जब शरीर में आवश्यकता से अधिक मात्रा में चर्बी बढ़ जाती है तो मोटापा उत्पन्न होकर शरीर को बेडौल बना देता है। मोटापा व्यक्ति के लिए मुसीबतों की जड़ ही नहीं, बल्कि अनेक छोटी-मोटी बीमारियों का कारण भी बन जाता है। ऐसे व्यक्ति की तन और मन से स्फूर्ति, उमंग और चंचलता चली जाती है। अब प्रश्न यह उठता है की मोटापा कैसे कम करें ? – मोटापा कम करने के लिए किसी एक उपाय से काम नहीं चलेगा बल्कि आपको मोटापा कम करने के विभिन्न तरीके अपनाने होंगे जिसमे संतुलित खानपान , व्यायाम सयंमित जीवन शैली आदि का समावेश होता है |

मोटापे का कारण : / Causes of obesity

  • मोटापा कम करने के लिए उपाय जानने से पहले मोटापा उत्पन्न होने के प्रमुख कारणों को जानना भी जरुरी है इसमें मुख्यत – वंशानुगत मोटापा , नलिका विहीन ग्रंथियां एड्रीनल ग्लैंड्स में गडबडी, शरीर की जरूरत से ज्याद केलोरी वाला भोजन खाना। मेटाबोलिस्म (चयापचय) की दर कम होना। थायराईड अथवा पीयूष ग्रंथि के विकार ,आराम पसंद जीवन, हार्मोन का असंतुलन होना। हाइपोथायरायडिज्म, गर्भ निरोधकों के रूप में दवाइयों का सेवन ,मानसिक तनाव और अवसाद आदि |
  • केला, मांस, वसा युक्त भोजन, बादाम आदि अधिक खाना, परिश्रम तथा व्यायाम न करना, दिन में सोना, आराम अधिक करना, मासिक धर्म नियमित न होकर कम होना, तली हुई चीजें खाना आदि होते हैं।

मोटापा के लक्षण / Symptoms of obesity

  • इस रोग में लक्षणों के रूप में चुस्ती-फुर्ती का अभाव, उत्साह की कमी, दैनिक कार्यों के करने में सुस्ती, थोड़े से कार्य करने पर भी थकावट, सांस फूलना, घबराहट, बेचैनी, अधिक पसीना आना, पसीने में बदबू, मधुमेह, उच्च रक्तचाप, हृदय की दुर्बलता, हृदय रोग, मासिक धर्म की अनियमितता आदि लक्षण देखने को मिलते हैं।

मोटापा कम करने के लिए क्या खाए / Foods You Should Eat To Prevent Obesity.

मोटापा कम करने के उपाय /motapa kam karne ke liye upay- cure obesity

मोटापा कम करने के उपाय

  • सादा, सुपाच्य, संतुलित भोजन करें।
  • भोजन आवश्यकता से कम मात्रा में ही सेवन करें।
  • मोटापा कम करने के लिए टमाटर, लौकी, खीरे के रस में नीबू व शहद  (Honey) मिलाकर पिएं।
  • आलू को उबालकर, आग में सेंक कर खाएं।
  • सुबह खाली पेट एक गिलास पानी में एक नीबू (Lemon) का रस और शहद मिलाकर पिएं।
  • मोटापा कम करने के लिए ककड़ी, टमाटर, पालक, चने की दाल खाएं।
  • छाछ में काला नमक और अजवाइन मिलाकर दोपहर के भोजन के बाद पिएं।
  • भोजन के साथ सलाद का नियमित सेवन करें।
  • ज्यादा से ज्यादा पानी पीयें।
  • रात को जल्दी खाना खायें।
  • सुबह जल्दी उठकर योग, प्राणायाम या प्रात: भ्रमण करें।
  • सुबह उठकर लौकी का रस या गरम पानी लें।

मोटापा कम करने के लिए क्या ना खाएं / Foods You Should avoid To Prevent Obesity

  • भारी, गरिष्ठ, तले, मिर्च-मसालेदार, चटपटे खट्टे खाद्य पदार्थ न खाएं।
  • मांस, मछली, अंडा, घी, तेल, मैदा, चीनी का सेवन न करें।
  • चावल, चॉकलेट, मिठाइयां, केला, तले आलू चिप्स, अंगूर से परहेज करें।
  • चाय, शराब, कोल्ड ड्रिक्स न पिएं।
  • बादाम, पिस्ते, काजू, मक्खन, मलाई, रबड़ी, मुरब्बे न खाएं। नमक का सेवन कम करें।
  • मोटापा कम करने के लिए तेल व घी का इस्तेमाल कम से कम करें, 2 चम्मच प्रतिदिन से ज्यादा किसी भी हालत में तेल/घी का इस्तेमाल न करें।
  • सम्भव हो तो सप्ताह में एक दिन बिना अन्न के रहें। फल तथा दूध ले सकते हैं।
  • चीनी तथा अन्य मीठी चीजों को खाना लगभग बन्द कर दें।

मोटापा कम करने के लिए हेतु कुछ उपयोगी टिप्स / Easy Ways to Lose Weight naturally

  • भोजन में नमक की मात्रा कम करें, जिन पदार्थों में नमक की मात्रा ज्यादा होती है उन्हें न खाएं। नमक से शरीर में पानी जम जाता है, जिससे शरीर फूलने लगता है। मोटापा कम करने के लिए आज ही नमक को अपनी खुराक से कम करें |
  • मोटापा कम करने के लिए रोजाना अपनी डाइट में पूरे दिन में एक चम्मच पिसी हुई अलसी शामिल करें। ये शरीर के उन हार्मोन्स को नियंत्रित करता है जिनमें मोटापा व कब्ज होता है।
  • कई बार ज्यादा भूख लगने पर जल्दी-जल्दी खाना छोड़ दें। जल्दी-जल्दी खाने से भोजन के साथ-साथ हवा भी पेट में चली जाती है, जिससे पेट की गैस व् मोटापा बढ़ता है।
  • भोजन तभी करें जब आप शांत हो, क्रोध या चिंता की अवस्था में यदि आप भोजन करते हैं तो पाचन ठीक से नहीं हो पाता, जिससे मोटापा तो बढ़ता ही है, साथ ही पेटदर्द की समस्या भी होती है।
  • अपने फाइबर जोन को पहचानें। बहुत ज्यादा फाइबर भी मोटापे का कारण होता है और बहुत कम भी, इसलिए फाइबर जोन में संतुलन होना बहुत जरूरी है। इसके लिए आप अपना परीक्षण स्वयं कर सकते हैं।

मोटापा कम करने के लिए सही प्रक्रति के भोजन का चुनाव करें / Food and Diet selection for-Obesity Prevention. 

वजन और मोटापा कम करने के लिए क्या ऐसा संभव है कि हम भूखे भी न रहें और इन परेशानियों से छुटकारा भी मिल जाए? जी हां, ऐसा संभव है। अगर आपको मोटापा कम करना है तो ऐसे कम कैलोरी वाले आहार हैं जिन्हें भरपेट खाने के बाद भी आपका वजन नहीं बढ़ेगा, उल्टे कम होगा। हां, इसके लिए आपको एक अलग तरह का आहार नियोजन करना पड़ेगा।

  • अगर आप अपने दैनिक आहार में अति संतृप्त पदार्थों (Highly Satiated Foods) का समावेश करें तो एक दिन में कम-से-कम 300 कैलोरी की कमी ला सकते इसका मतलब है आप सप्ताह में 200 ग्राम से 400 ग्राम तक अपना वजन कम कर सकते हैं। मोटापा कम करने के लिए इस तरह के आहार लेने का सबसे अच्छा पहलू यह है कि इससे कैंसर, (ह्रदय रोग और पाचन-संस्थान संबंधी रोगों को ठीक करने में भी मदद मिलती है। इससे आप न केवल सुंदर दिखेंगे बल्कि स्वस्थ अनुभव भी करेंगे। यह भी पढ़ें – जाने डायबिटीज़ के 10 शुरुआती लक्षण |
  • शाकाहारी भोजन और कम कैलोरी वाले आहार आपको सुंदर तो बनाते ही हैं, साथ-ही-साथ आपको मोटापे से भी मुक्ति दिलाते हैं।
  • ऐसे पदार्थों में सबसे अच्छे हैं-फल, हरी पत्तेदार साग-सब्जियां और अनाज। ये पदार्थ आपकी थाली में ज्यादा जगह घेरते हैं जिससे आपको लगता है कि आपको पर्याप्त पोषण मिल रहा है। अधिकांश मामलों में शाकाहारी भोजन का आकार मांसाहारी भोजन की तुलना में दुगना होता है, इसलिए अधिक मात्रा में खाने के बावजूद कैलोरी कम ही रहती है।

मोटापा कम करने के लिए द्रव्य भोजन पदार्थो का सेवन

  • हर तरह के भोजन का द्रव्य रूप ठोस-रूप की अपेक्षा कम कैलोरी वाला होता है। सूप, जूस तथा इसी तरह के अन्य द्रव्य रूप में भोजन मोटापा कम करने के लिए ज्यादा सहायक सिद्ध होंगे। जैसे टमाटर का सूप एक अद्भुत चीज है। भोजन के पहले इसका सेवन करने से आप कम खाना खाएंगे। यह भी पढ़ें – जॉगिंग करें फिट रहें – Jogging Tips

मोटापा कम करने के लिए अधिक रेशेदार भोजन का सेवन

  • वजन और मात्रा से रहित फाइबर (रेशा) युक्त आहार, खासतौर से फल, साग-सब्जियां, अनाज और फलियां भी आपकी भूख कम कर सकती हैं।
  • पौधे अपने आकार के लिए फाइबर पर निर्भर करते हैं। फाइबर आपकी आतों में जमा होकर पेट को खाली करने की क्रिया को धीमा कर देते हैं जिससे आपको भूख जल्दी नहीं लगती। अधिक रेशे वाले पदार्थ के खाने से भूख कम लगने का एक कारण यह भी है कि उनमें कम रेशे वाले पदार्थों की तुलना में अधिक टेक्श्चर (तंतुविन्यास) होता है।
  • पॉलिश किए हुए चावल की तुलना में बिना पॉलिश किया हुआ चावल अधिक लाभदायक होता है।
  • इसी तरह भुने आलू उबले आलू से ज्यादा अच्छे होते हैं। रोजाना खाने में एक सेब, एक संतरा और एक कप मसूर शामिल करें और अंतर खुद देखें।

मसालेदार भोजन

  • फाइबर से भरपूर भोजन को अधिक स्वादिष्ट बनाने के लिए मसालों का इस्तेमाल करें। मसाले भोजन को रुचिकर बना देते हैं, पर इनका इस्तेमाल कम चर्बी वाले और कम कैलोरी वाले पदार्थों के लिए ही करें। पर याद रखें स्वाद बढ़ाने वाली कोई भी चीज आपकी आवश्यकता से अधिक खाने के लिए प्रेरित कर सकती है।

रंगीन भोजन

  • मोटापा कम करने के उपाय के रूप में आप लाल, संतरी और गुलाबी रंग भोजन का स्वाद बढ़ाते हैं। हरी मिर्च की जगह लाल मिर्च और सामान्य अंगूर की तरह काले अंगूर का इस्तेमाल करके आप कम कैलोरी वाले भोजन को स्वादिष्ट बना सकते हैं।
  • हरा, नीला रंग खाने की इच्छा को कभी कम नहीं करते। मोटापा कम करने के लिए सामान्य भोजन में चर्बी की मात्रा कम करके उसे अधिक आकर्षक बनाया जा सकता है।
  • जैसे दूध या मक्खन के बदले छाछ का सेवन किया जा सकता है। इनके सेवन से आपकी कैलोरी भी नहीं बढ़ेगी और आपको भूख भी महसूस नहीं होगी, इसके अलावा आप अपने भोजन में ऐसे पदार्थों को शामिल कर सकते हैं जिनमें चर्बी की मात्रा कम हो और वे प्रोटीन से भरपूर हो।

अन्य सम्बंधित पोस्ट 

सोशल मीडिया पर इस पोस्ट को शेयर करें

Email this to someonePin on PinterestShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on Facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *