शुगर कम करने के उपाय -Diabetes Control Tips

Diabetes एक ऐसा रोग है, जो एक बार हो जाए तो फिर जीवन भर के लिए हो जाता है। यह रोग स्वास्थ्य पर कई साइड इफेक्ट्स भी छोड़ता है। आधुनिक चिकित्सा विज्ञान के अनुसार Diabetes पूरी तरह ठीक नहीं हो सकता हैं हालांकि लेकिन इलाज के द्वारा इसका सफलता से नियंत्रण जरुर किया जा सकता है। रक्त में शुगर कम करने के लिए सही खानपान, व्यायाम, और दवाइयों का नियमित सेवन करना जरुरी होता हैं |

आज के आधुनिक युग में जहां हमने दवाइयों से कई जटिल बीमारियों को ठीक करने में सफलता पाई है, वहीं इनके साइड इफेक्ट के कारण कई नई बीमारियों भी शरीर को घेर लेती हैं। हमारा यह प्रयास होना चाहिए कि बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के स्वास्थ्य लाभ कर सकें। इसके अलावा भोजन और जीवन-शैली में जरुरी परिवर्तन तथा औषधियों के उपयोग से Diabetes को नियंत्रण में रखा जा सकता है।

रक्त में शुगर कम करने के लिए टिप्स : Tips for Lower Blood Sugar Levels Naturally.

जानिए ब्लड शुगर कम करने के उपाय - Diabetes Control Tips

Tips For Sugar Control

  • खून में शर्करा के स्तर (Blood Sugar Level) को कंट्रोल करने या शुगर कम करने के लिए आपका खाना, परहेज, व्यायाम, दवा, नियमित जांच और सही तरह के इलाज जरूरी हैं।
  • शुगर कम करने के लिए शारीरिक रूप से सक्रिय बनना बहुत जरुरी होता हैं |
  • सुबह उठकर जॉगिंग शुरू करें।
  • सुबह-शाम योगासन एवं प्राणायाम करें। योग आसन से शुगर कम करने में सहायता मिलती हैं |
  • भरपूर नींद लें कम से कम सात से आठ घंटे |
  • टेंशन और मानसिक तनाव से दूर रहें क्योंकि यह न सिर्फ वजन बढ़ता है, बल्कि यह Insulin Resistance की भी वजह बनता है। तो शुगर कम करने के लिए तनाव से बचें |
  • तनाव दूर करने के लिए हॉट बाथ, संगीत और मसाज, अरोमा थेरेपी आदि का सहारा लें |
  • धूम्रपान न करें।
  • नमक कम मात्रा में लें |
  • खाना खाने के बाद दस मिनट तेज कदमो से जरुर टहले |
  • शुगर कम करने के लिए एक संतुलित भोजन-योजना का पालन करें। मधुमेह रोगी के लिए एक सही खाने का बहुत महत्त्व होता है इसको ठीक से जानने के लिए पढ़े यह लेख – डायबिटीज में क्या खाए और क्या नहीं 
  • एक स्वस्थ जीवन-शैली अपनाएं।
  • शरीर में पानी की कमी ना होने दें अधिक से अधिक पानी पियें |
  • अपने रक्त ग्लूकोज़ (अर्थात् आपके रक्त में ग्लूकोज़ की मात्रा) को अपनी लक्ष्य सीमा के भीतर रखें। शुगर कम करने के लिए इस पर नजर रखना जरुरी होता हैं |
  • शुगर कम करने के लिए अपने कोलेस्ट्रोल और दूसरी वसाओं (फैट) को अपनी लक्ष्य सीमा के भीतर रखें। इसके लिए रक्त में कोलेस्ट्रोल की जाँच करवाते रहें |
  • ब्लड शुगर कम करने के लिए अपने वज़न पर ध्यान दें, व्यक्ति को न अधिक मोटा होना चाहिए और न अधिक पतला। इसके लिए आप बॉडी मास इंडेक्स केलकुलेटर (Body Mass Index Calculator) का प्रयोग करें। डाइबिटीज़ के complication या उलझन से बचें।
  • अपना रक्तचाप लक्ष्य सीमा के नजदीक ही बनाए रखें।
  • डॉक्टर द्वारा लिखी गई अनुसार अपनी दवाएं लेते रहें।
  • शुगर कम करने के लिए मेडिटेशन करें और अपने पैरों का विशेष ध्यान रखें।
  • इन सभी टिप्स को ठीक से फोलो करने के लिए आप हमारे कुछ पुराने आर्टिकल की सहायता लें सकते है | जैसे :-
  • जाने क्या है प्राणायाम? तथा प्राणायाम करने के लाभ
  • जॉगिंग करें फिट रहें – Jogging Tips
  • मानसिक तनाव से मुक्ति पाने के उपाय- Stress Management
  • गहरी नींद के लिए आजमाए ये 26 टिप्स
  • मसाज के लाभ, विधि और सावधानियां
  • जानिए क्या है Aromatherapy और घर पर इसे कैसे करते हैं ?
  • जानिए नमक के फायदे ,नुकसान और कितना खाएं?
  • जाने क्या है ब्रेन वेव जो बढ़ाये मानसिक शांति और शक्ति?

शुगर कम करने में शारीरिक व्यायाम का महत्त्व :

  • इससे रक्त ग्लूकोज़ कम होता हैं |
  • इससे रक्तचाप में कमी आती है।
  • वजन को कम करना या उसे बनाए रखने में मदद मिलती हैं ।
  • स्वयं को बेहतर महसूस करने में मददगार।
  • व्यायाम से तनाव या दबाव से राहत मिलती हैं ।
  • व्यायाम हृदय और फेफड़ों के कार्यों में सुधार आता हैं ।
  • यह मांसपेशियों के गठन में सुधार करता है ।

मधुमेह के रोगियों को इन बातों का भी ख्याल रखना चाहिए  :

  • शरीर पर कोई छोटा सा भी घाव हो तो उसकी अनदेखी कतई ना करें खासकर पैरो पर अगर कोई चोट लग गई है तो तुरंत उसका उपचार करें |
  • नंगे पांव ना घूमे हमेशा चप्पल या जूते पहन कर ही घूमे |
  • अपने पास हमेशा शुगर कैंडी और बिस्किट जरुर रखें अगर रक्त में शुगर 70 से नीचे आ जाता हैं तो कुछ ग्लूकोज बिस्किट खाएं |
  • कोलेस्ट्रोल और अन्य तेल युक्त खाने पीने की चीजो पर नियंत्रण रखें जिससे कि दिल का दौरा और उच्च रक्तचाप या हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी से बच सकें।
  • नहाते समय शरीर की नियमित जाँच करें किसी प्रकार का सूजन ,लाल दाने, फुंसी, रूखापन, त्वचा पर कोई फफोला हो गया है तो तुरंत इसका इलाज करवाएं ये सब समस्याए अक्सर बगल में ,पीठ पर एडी या टांगो के बीच जॉइंट्स पर होती है |
  • यदि आप अपने Diabetes को नियंत्रित रखना चाहते हैं तो अपनी देखभाल की जिम्मेदारी स्वयं संभाल लें, इससे आप Diabetes से जुड़ी जटिलताओं की शुरुआत को देर तक रोके रख सकते हैं, और यहां तक कि उन्हें होने से रोक भी सकते हैं।

मधुमेह रोगी को इन विशेषज्ञों से नियमित परामर्श करते रहना चाहिए  : –

  • अंत:स्राव विशेषज्ञ (Endocrinologist) के पास, – Diabetes नियंत्रण और जटिलताओं की जांच के लिए।
  • दंत विशेषज्ञ (Dentist): -छ: महीने में एक बार
  • आँखों के विशेषज्ञ (Eye Specialists)- (एक या दो साल में )

मधुमेह रोगी को निम्न जांच भी करा लेनी चाहिए :

  • Lipid Profile : मधुमेह रोगियों में Cholesterol और Triglyceride का स्तर जानने के लिए।
  • Kidney Function Test: : गुर्दे की कार्य प्रणाली की जांच के लिए रक्त में प्रोटीन क्रिएटिन तथा यूरिया की जांच की जाती है।
  • X-Ray : छाती में संक्रमण की जांच के लिए किया जाता है।
  • ECG : समय-समय पर कार्डियक जांच का होना जरूरी है।

ब्लड शुगर का लक्ष्य :

  • डाइबिटीज़ के विभिन्न संगठनों द्वारा खून में चीनी (Blood Sugar) के सही लेवल के बारे में बताया गया है। हालंकि सबने भले ही अलग-अलग लेवल को सही बताया है, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप और आपका डॉक्टर के साथ मिलकर किसी एक लक्ष्य को निर्धारित करके अपने खून में चीनी का स्तर (ब्लड शुगर) नियंत्रित करने की कोशिश करें।

ब्लड शुगर की मात्रा (मिली ग्राम प्रति डेसीलीटर) का लक्ष्य होता है।

  • खाने से पहले या खाली पेट में ADA 70 से 130 और AACE 110 से कम
  • खाना खाने के 2 घंटे बाद ADA 180 से कम और AACE 140 से कम
  • A1C – ADA 7 से कम और AACE5 से कम
  • यदि आप चाहें तो इस कैलक्युलेटर के अनुसार अपने शुगर लेवल को जाँच कर सकते हैं |

डायबिटीज के साथ जीना भी एक कला है अगर आप यह कला सीख लें तो निश्चित रूप से आप इस बीमारी से जीत सकते हैं | सबसे महत्त्वपूर्ण है Discipline (अनुशासन) और दूसरा निरंतरता क्योंकि इन्ही दोनों के सहारे आप जीवन भर मधुमेह की रोकथाम से जुड़े उपायों का पालन कर पाएंगे

इससे सम्बंधित अन्य पोस्ट 

2 Comments

  1. Satish gupta

Leave a Reply

Ad Blocker Detected

आपका ad-blocker ऑन है। कृपया हमे विज्ञापन दिखाने की अनुमति दें। पूरा कंटेंट पढ़ने के लिए अपना ऐड-ब्लॉकर www.healthbeautytips.co.in के लिए अनब्‍लॉक कर दें। धन्यवाद Please consider supporting us by disabling your ad blocker. Please check your Anti Virus settings /Browser settings to turn on The Pop ups.

Refresh