पिंपल्स हटाने के लिए घरेलू उपाय

पिंपल्स और कील -मुंहासों की शुरुआत प्रायः किशोरावस्था में ही होती है। पिंपल्स के कारण – इसकी मुख्य वजह यह है कि किशोरावस्था में त्वचा में चिकनाई पैदा करने वाली ग्रंथियां सक्रिय हो जाती हैं या फिर अनियमित रूप से काम करने लगती हैं। इन ग्रंथियों से तेल निकलकर रोमकूपों में इकट्ठा हो जाता है जो मुंहासे होने का कारण बनता है। पिंपल्स होने के संदर्भ में खान-पान का भी बहुत असर पड़ता है। रक्त अशुद्ध है तब भी मुंहासे होने का भय बना रहता है। पिंपल्स हटाने के लिए कई तरह की क्रीम बाजार में मिल ही जाती है लेकिन उनके प्रयोग से भी कई बार प्रभावकारी असर नहीं होता बल्कि चेहरे पर दाग धब्बे बढ़ जाते है | इस लिए हम आपको बताएँगे कुछ आसान घरेलू आजमाए हुए उपाय जो पूरी तरह से प्राकृतिक चीजो से बने हुए है जिससे इनके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होते है |

पिंपल्स हटाने के लिए घरेलू नुस्खे

pimples on face treatment at home पिंपल्स हटाने के लिए घरेलू उपाय

पिंपल्स हटाने के लिए घरेलू उपाय

  • पिंपल्स हटाने के लिए नीम के पत्तों को पानी में उबालें, अब इस पानी को ठंडा करके चेहरा धोएं। धीरे-धीरे पिंपल्स खत्म हो जाएंगे।
  • यदि पिंपल्स ज्यादा हों तो नीम की पत्ती का पाउडर, चंदन पाउडर, लौंग, हल्दी, शहद (Honey) व गुलाब जल का लेप लगाएं।
  • पिंपल्स हटाने के लिए चोकर, नींबू का रस, आलू का रस व दूध का लेप लगायें |
  • सुबह-शाम दूध का लेप करने से भी पिम्पल्स से छुटकारा पाया जा सकता है।
  • कद्दूकस किया हुआ आलू लगाने से पिम्पल्स के धब्बे दूर हो जाते हैं।
  • पिंपल्स में यदि पस (मवाद) भर गया हो तो चंदन का लेप लगाएं। ऐसा करने से दर्द भी कम होगा और निशान भी दूर होंगे।
  • पिंपल्स उपचार करने के लिए मसूर की दाल पानी में भिगोकर पीस लें। इसका लेप चेहरे पर लगाएं। इससे पिम्पल्स के निशान कम हो जाएंगे।
  • वैसे तो पिंपल्स तैलीय त्वचा पर होते हैं, पर यदि शुष्क त्वचा पर पिंपल्स हों तो टमाटर का पैक लगाने से राहत मिलती है।
  • पिंपल्स हटाने के लिए रात को एक चम्मच मलाई में नींबू का रस मिलाकर फेंट लें। यह पेस्ट रात में लगाकर सो जाएं। प्रातः कुनकुने पानी से मुंह धो लें।
  • जायफल को दूध में पीसकर लगाने से पिंपल्स दूर होते हैं।
  • यदि क्रीम की चिकनाई से आपके चहरे पर पिंपल निकल आएं हों तो पिंपल्स हटाने के लिए फलों का अर्क, खीरे का रस या शहद लगाएं।
  • पिंपल्स हटाने के लिए शहद, दही और अंडे की सफेदी मिलाकर दिन में एक बार चेहरे पर लगाएं। शहद प्राकृतिक रूप से नमी देता है, दही में लैक्टिक एसिड होने से रंगत निखरती है।
  • अंडे की सफेदी से त्वचा की कोशिकाओं में वृद्धि होती है। इससे चेहरे के दाग-धब्बे व पिंपल्स मिट जाते हैं।
  • मुंहासों के दाग पर सेब का रस लगाएं। महीने-भर में दाग दूर हो जाएंगे।
  • मस्सों की प्रारंभिक अवस्था मुहांसे या पिंपल्स होती है, अत: हम कह सकते हैं कि मस्सों का प्रारंभिक रूप मुहांसे हैं। मस्सों पर नियंत्रण पाना हो तो सर्वप्रथम मुहांसों से बचने के कारगर उपाय करने चाहिए, ताकि कील और ब्लैक हैड्स से भी बचा जा सके।
  • त्वचा को स्वच्छ तथा पारदर्शक रखने पर मस्सों की बढ़त रुकती है, इसलिए दिन में दो बार औषधियुक्त नीम हर्बल साबुन से चेहरा साफ करें। यह भी पढ़ें – नीम के बेहतरीन औषधीय गुण-सौन्दर्य के लिए |
  • गुलाबजल को रुई के फोहों से हल्के हाथों से बिना रगड़े लगाना चाहिए। लगाने के बाद कम-से-कम पन्द्रह मिनट तक चेहरे पर लगा रहने देना चाहिए। उसके बाद सादे पानी से धो लेना चाहिए। छोटे मस्सों को दूर करने के लिए धनिए को पानी में पीसकर लेप करें।
  • अगर मस्सा काफी बड़ा हो गया हो तो घोड़े की दुम का बाल मस्से पर बांध दें। मस्सा अपने आप कटकर गिर जाएगा।
  • मस्से हटाने के लिए भुनी हुई फिटकरी एवं काली मिर्च मिलाकर लगाने से मस्से मिट जाते हैं।
  • सीप की राख सिरके में मिलाकर लगाने से मस्से ठीक हो जाते हैं।
  • आजकल ब्यूटी पार्लरों में मस्सों के लिए स्पेशल मास्क बनाया और लगाया जाता है जिससे मस्सों का सफाया हो जाता है।
  • भाप देकर मस्से निकालना एक गलत तरीका है। इससे त्वचा के रोमछिद्र बड़े होने की संभावना हो जाती है जो देखने में उतने ही भद्दे प्रतीत होते हैं, जितने कि मुहांसे अथवा मस्से।
  • पिंपल्स हटाने के लिए नींबू का रस, बादाम का तेल और ग्लिसरीन बराबर मात्रा में मिलाकर रख लें। सुबह-शाम कुछ बूंदें पिंपल्स पर लगाएं।
  • किंशुकादि तेल (Kinshukadi Oil) को रात में मुंहासों पर लगाएं। इसके लगातार प्रयोग से चेहरे के गड्ढे ठीक होकर चेहरा बेदाग हो जाएगा।
  • आंवले (Amla) का पाउडर पानी में भिगोकर रात-भर भीगने दें। सुबह इसे उबटन की तरह लगाएं। पिंपल्स ठीक हो जाएंगे।
  • पिंपल्स हटाने के लिए नीम के तेल का प्रयोग भी लाभ पहुचाता है।
  • पिंपल्स हटाने के लिए चेहरे पर चने की दाल और नींबू के रस को मिलाकर पेस्ट लगाने से फायदा होता है।
  • पिंपल्स हटाने के लिए दिन में तीन-चार बार कपूर की एक टिकिया मुंहासों पर मलें।
  • चेहरे पर सप्ताह में एक बार भाप लें। भाप लेने से चेहरे के रोमछिद्र खुल जाते हैं, जिससे पिंपल्स को आसानी से निकाला जा सकता है।
  • पिंपल्स हटाने के लिए नींबू और ककड़ी का रस फ्रिज में रखकर बर्फ बना लें। अब चेहरे को ठंडे पानी से धोकर इस पर यह बर्फ मलें। प्रतिदिन ऐसा करने से आपको फायदा होगा। यह भी पढ़ें – नींबू से कील-मुंहासे हटाने के 10 बेहतरीन उपाय |
  • पिंपल्स हटाने के लिए मुल्तानी मिट्टी, आंबा हल्दी पाउडर, नींबू का रस तथा गुलाब जल की बूंदों के साथ एकान्शिया टिंक्चर की 10 बूंद, बर्बरीज एक्वीफोलिन टिंक्चर की 10 बूंद तथा हेमेमालिज टिंक्चर की 10 बूंद-इन तीनों टिंक्चरों की उबटन (होमियोपैथी टिंक्चर) में मिलाकर चेहरे पर दो घंटे तक लगाएं। बाद में चेहरा धो लें। फर्क आपकी नजर आ जाएगा। सावधानी – (उपर्युक्त टिंक्चर किसी होमियोपैथी विशेषज्ञ की देख-रेख में ही प्रयोग करें)

पिंपल्स से बचने के लिए रखे अपने खानपान और इन बातों का ख्याल

  • पिंपल्स से बचने के लिए प्रात:काल तांबे के बर्तन में रखा बासी पानी पीएं। इससे कब्ज की शिकायत दूर होती है।
  • शरीर में रक्त संचार तेज करने के लिए व्यायाम अवश्य करें।
  • पिंपल्स से बचने के लिए प्रतिदिन प्रात:काल खाली पेट एक चम्मच त्रिफला चूर्ण लें।
  • अधिक गरम या ठंडा भोजन न लें। सुपाच्य भोजन का सेवन करें।
  • पिंपल्स से बचने के लिए चीनी और जैम की जगह गुड़ या शहद का इस्तेमाल करें। बहुत ज्यादा नमकीन भोजन न करें।
  • पिंपल्स से बचने के लिए त्वचा की नियमित सफाई करें। रात में हमेशा मेकअप उतारने की आदत डालें।
  • अतिरिक्त विटामिन, कम चिकनाईयुक्त भोजन, सलाद और ताजे फलों व जूस के प्रयोग से भी कील-मुंहासों पर नियंत्रण पाया जा सकता है।
  • शरीर में रक्त संचार बढ़ाने के लिए जॉगिंग व तेज चलने जैसे व्यायाम करने चाहिए। कील-मुंहासों को कभी दबाकर या नोंचकर न निकालें।  एलोवेरा के बेहतरीन नुस्खे : दाद, खुजली, घाव, फोड़े-फुंसियों और जली त्वचा के इलाज के लिए
  • मेकअप के द्वारा कील-मुंहासे छिपाने का प्रयास करने से बचें।
  • पिंपल्स से बचने के लिए मिठाई, केक, चॉकलेट का प्रयोग कम-से-कम करें।
  • दिन में कम-से-कम आठ गिलास पानी पीएं। पिंपल्स से बचने के लिए नींबू पानी का प्रयोग अति लाभकारी होता है।
  • मछली, पनीर व दही का प्रतिदिन इस्तेमाल करें।
  • दिन में दो बार औषधियुक्त साबुन से मुंह धोएं।
  • पिंपल्स से बचने के लिए भरपूर नींद लें, खुलकर हंसें और तनाव से बचें। सलाद भरपूर मात्रा में खाएं।
  • बराबर मात्रा में गाजर व नींबू (Lemon) का रस दो चम्मच शहद में मिलाकर सुबह-सुबह खाली पेट लें।
  • किशोरियों, युवतियों को मुहांसे और पिंपल्स की शिकायत हो तो उन्हें बार-बार स्वच्छ पानी से ही चेहरा धोकर पानी को स्वयं ही सूखने देना चाहिए। चेहरे को तौलिए या रूमाल से अधिक जोर से रगड़कर सुखाना नहीं चाहिए।
  • हमेशा टिश्यू पेपर साथ रखें, आवश्यकता होने पर चेहरा साफ कर लें। इससे चेहरे का अतिरिक्त तेल खत्म हो जाएगा।
  • चेहरे पर अच्छे टोनर का इस्तेमाल करें।
  • पिंपल्स से बचने के लिए प्रतिदिन ताजा नारियल पानी पीएं। किसी भी कॉस्मेटिक का इस्तेमाल न करें।

अन्य सम्बंधित पोस्ट 

 

सोशल मीडिया पर इस पोस्ट को शेयर करें

Email this to someonePin on PinterestShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on Facebook

Comments

  1. By Naresh Meena

    Reply

  2. By raj

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *