जाने 9 प्रकार के फेशियल- चमकता चेहरा पाने के लिए

जब आप ब्यूटी पार्लर में जाते है तो आपको बहुत सारे फेशियल के प्रकार देखने को मिलेंगे| फेशियल त्वचा के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए और त्वचा के इलाज तथा उसकी चमक को बनाए रखने के लिए एक शानदार तरीका होता है ! लेकिन जब हम Beauty Parlour  में जाते हैं तो कई बार बड़ी दुविधा हो जाती है कि किस प्रकार का Facial  कराया जाए? इसके लिए जरूरी है की आप अपनी Skin की जरूरत समझे और अपना बजट देंखे। सिर्फ नाम सुनकर ही Facial कराना ठीक नहीं है। तो आइये जानते है फेशियल के बारे में –

पार्लर में उपलब्ध 9 प्रकार के पोपुलर फेशियल एक चमकता चेहरा पाने के लिए

 

top 9 best facials फेशियल के प्रकार

फेशियल के प्रकार

  1. ) Gold facial 

  • यह आजकल काफी चर्चित Facial है। सोना प्रकृति में गर्म होता है और रक्त शोधक की तरह काम करता है तथा चेहरे से प्रदूषण हटाने के लिए भी अच्छा है।
  • गोल्ड फेशियल के प्रकार में 24 कैरेट Gold Dust का प्रयोग किया जाता है तभी पूरा फायदा मिलता है, लेकिन यह महंगा भी पड़ता है।
  • छोटे पार्लर कई बार Gold Facial करते तो हैं पर उसमें शुद्ध सोने की Dust  का प्रयोग नहीं करते हैं। वो सिर्फ सुनहरे रंग की डस्ट डाल देते हैं।
  • इसकी पहचान है कि अगर शुद्ध सोना होगा तो वो Skin में पूरी तरह से चला जाएगा, लेकिन नकली डस्ट ऊपर दिखेगी।
  1. ) Silver Facial 

  • सिल्वर फेशियल को रंग साफ करने और Fair skin पाने के लिए करवाया जाता है, तथा गर्मियों में इस प्रकार के  फेशियल को करवाना ज्यादा ठीक रहता है।
  • सिल्वर फेशियल के प्रकार में शुद्ध चांदी की Dust का प्रयोग किया जाता है तभी अच्छा असर होता है।
  1. ) Herbal facial 

  • हर्बल फेशियल के प्रकार में जड़ी-बूटियों से बनी हुई Cream और herbal face pack का प्रयोग किया जाता है। इसे कभी भी कराया जा सकता है|
  • Aloe Vera और Aroma Facial के प्रकार भी हर्बल Facial के ही अंतर्गत आते हैं।
  1. ) Aroma therapy facial 

  • एरोमा थेरेपी फेशियल के प्रकार में जैसा की  नाम से ही ज़ाहिर है – Aroma तेल का इस्तमाल किया जाता है ! Aroma तेल का प्रयोग आजकल कई तरह की बीमारियों में भी किया जाता है।
  • Aroma तेल के मोलिक्यूल इतने छोटे होते हैं कि कुछ ही सेकेंड में Skin इन्हें सोख लेती है, साथ ही इनकी खुशबू से भी सुखद अहसास होता है।
  • यद्यपि यह काफी पुरानी औषधि है पर इसमें उपयोग के संबंध में इतनी जागरूकता नहीं थी | लेकिन अब इसका प्रयोग Skin में काफी किया जाता है।
  • इसके प्रयोग से Skin पर (moisturising) नमी का स्तर बढ़ जाता है।
  1. ) Chocolate Facial 

  • इसका फायदा Skin के लिए बहुत नहीं है, लेकिन कुछ लोग इसे कराना पसंद करते है। चॉकलेट की खुशबू अच्छी लगती है तथा ये रिलैकस भी करता है।
  • इस फेशियल के प्रकार में कोको पाउडर ,जैतून का तेल, ब्राउन शुगर, कुछ बूंदे वेनिला का इस्तमाल किया जाता है |
  1. ) Ginseng facial 

  • Ginseng चीन की जड़ी-बूटी है, जिसके बारे में कहावत है कि इससे मरता व्यक्ति भी जी उठता है।
  • Ginseng की कुछ बूंदें Cream में मिलाकर Facial किया जाता है, इससे Skin एकदम खिल उठती है।
  • यह Facial थोड़ा महंगा पड़ता है, क्योंकि Ginseng बाहर से आयात  हो कर आती है। यह भी पढ़ें – घर पर फेशियल कैसे बनाये-12 Homemade Facials.
  1. ) Photo Facial 

  • इसमें भी कुछ खास तरह की मशीनों का प्रयोग किया जाता है , जिसमे कुछ विशेष प्रकार की लाइट का उपयोग किया जाता है , जिससे कोलेजन की मात्रा बढ़ जाती है तथा झुर्रियां कम होती हैं।
  • साथ ही Alpha Hydroxy Acids (AHA) युक्त मास्क लेने से Skin अच्छी रहती है।
  • यह भी पढ़ें – ऑइली स्किन से छुटकारा पाने के16 घरेलु उपाय
  1. ) Skin Polishing Facial  

  1. ) Fruit Facial –

  • Fruit Facial का अर्थ सिर्फ Fruit Cream से मसाज नहीं है,  इसमें अपनी Skin के अनुसार Fresh Fruits का भी प्रयोग करना चाहिए।
  • इस Facial में Pack भी Fruits का ही प्रयोग करना चाहिए। इसमें जरूरी है कि जैसी Skin हो उसी के अनुसार फल चुनें।
  • Dry Skin के लिए केले का, Oily Skin के लिए साइट्रस फल (संतरा इत्यादि), बेजान Skin के लिए Strawberry Pigmentation ठीक करने के लिए पपीते का प्रयोग करना चाहिए |

अन्य सम्बंधित पोस्ट 

Facial कितने  दिनों में करवाए –

Facial कितने दिनों में कराना चाहिए यह भी एक महत्वपूर्ण प्रश्न है। Facial की समय सीमा भी Skin तथा उम्र पर निर्भर करती है। अगर Skin Dry है तो जल्दी-जल्दी कराना पड़ सकता है, जबकि Oily है तो कम कराना पड़ेगा।

 

सोशल मीडिया पर इस पोस्ट को शेयर करें

Email this to someonePin on PinterestShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on Facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *