मधुमेह के कारण और इसके प्रकार

Diabetes Causes (मधुमेह के कारण) – किसी भी दुश्मन से लड़ने से पहले उसके बारे में जानना आवश्यक है तो आइये पहले Diabetes के बारे संक्षिप्त रूप से आसान भाषा में समझने का प्रयास करते है ! Diabetes mellitus एक गंभीर Metabolic Disease है , जो पेट (Stomach) के पीछे की एक gland  ग्रंथि द्वारा insulin  उत्पन्न न  न कर पाने की कमज़ोरी से होता है। Insulin एक Harmon है जो carbohydrate, Fat (वसा) तथा Protein को प्रभावी रूप से पचाने के लिए आवश्यक है। पर्याप्त Insulin के बिना glucose शरीर की कोशिकाओं में प्रवेश नहीं कर पाता है। 21वीं सदी की सबसे चुनौतीपूर्ण बीमारियों में से Diabetes भी एक है । यह बीमारी सभी आयु वर्ग के लोगो को हो सकती है।

Diabetes Causes

Diabetes -Causes-and-its-types

Diabetes होने पर जब रक्त में Glucose स्तर बढ़ जाता है तब शरीर अतिरिक्त Glucose को पेशाब के माध्यम से शरीर से बाहर करके इस स्थिति से निपटता है ! रक्त में अतिरिक्त Glucose से धमनियां संकरी हो जाती हैं । जब यह बड़ी रक्त वाहिनियों (Blood vessel) को प्रभावित करता है तो हृदय रोग ( cardiovascular disease) बीमारिया उत्पन्न हो जाती हैं। और जब यह छोटी रक्त वाहिनियों, जैसे आंखों की कोशिकाओं को प्रभावित करता है तो इसके परिणामस्वरूप रेटिना के क्षतिग्रस्त होने से दृष्टि कमज़ोर हो जाती है और इससे अंधापन भी हो सकता है। रक्त में Glucose की अधिकता से Nerve sheaths में सूजन भी आ जाती है  जिससे मरीज को  पिन और सूइयों जैसी चुभन, सुन्नता आदि महसूस होती है !

डायबिटीज होने के कारण (Diabetes Causes)

बदली हुई जीवन शैली-वसायुक्त भोजन, शारीरिक गतिविधियों में कमी और तनावपूर्ण जीवन आदि मुख्य Diabetes Causes (मधुमेह के कारण) है। यह आजीवन रहने वाली बीमारी है ! Diabetes में मरीज़ की सक्रिय भागीदारी तथा Diabetes के उपचार के द्वारा इस पर नियंत्रण किया जा सकता है। Diabetes के साथ जीने का मतलब है एक अनुशासित और परिवर्तित जीवन शैली जिसे गरिमा पूर्वक स्वीकार करना चाहिए।

  • अगर Type -2 Diabetes है तो यह आनुवंशिक भी हो सकती है, तो अगर  माता-पिता को Type -2  शुगर की शिकायत है तो होने वाले बच्चों को शुगर की शिकायत की संभावना अधिक होती है
  • मोटापा – Diabetes Causes में सबसे ऊपर शुमार होता है , इसलिए सभी के लिए यह जरुरी है कि अपने शरीर पर मोटापा न आने दें। इसके लिए कम भोजन और वह भी कम वसा (fat) वाला होना चाहिए। ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों और फलों का सेवन करना चाहिए।
  • अपने बच्चों को उचित खान-पान की आदत डालें। बच्चों को मोटापा बढाने वाले और ठंडे पेय पदार्थ (Soft Drinks) कम-से-कम देने चाहिए।
  • Toffee, Candy , chocolate, ice cream, मिठाइयां आदि का सेवन कम-से-कम करना चाहिए।
  • हर रोज कोई-न-कोई व्यायाम और योग आसन अवश्य करना चाहिए। शारीरिक श्रम (physical exercise/Activity) Diabetes दूर भगाता है।
  • व्यक्ति को गलत तथा अधिक आहार से Diabetes हो सकता है।
  • Diabetes से दूर रहने के लिए व्यक्ति को आरामतलबी और आलस्य की जिंदगी से बचने की कोशिश करनी चाहिए !
  • शराब पीना, धूम्रपान करना और अन्य नशे Diabetes को जन्म दे सकते हैं।
  • अगर आप इन सब “Diabetes Causes” को ध्यान में रख कर अपनी दिनचर्या तथा खानपान स्वस्थ रखेंगे तो यकीन मानिये आपको मधुमेह जैसी गंभीर बीमारी से दो चार नहीं होना पड़ेगा |

Diabetes के प्रकार:-

  • Type – 1 Diabetes 

    इसे insulin dependent Diabetes mellitus के रूप में परिभाषित किया गया है। इस रोग में पैंक्रियाज़ इंसुलिन पैदा नहीं करता। पहले यह किशोर मधुमेह के नाम से भी जाना जाता था। इस प्रकार का मधुमेह मुख्यतः युवा बच्चों और वयस्कों में होता है। यह मधुमेह गंभीर होता है, लेकिन सही तरीके से इलाज करवाने पर लोग मधुमेह के साथ लंबे समय तक स्वस्थ व सुखी रह सकते हैं। इस प्रकार की Diabetes प्राय: बच्चों एवं युवाओं को होती है। इसमें Insulin का बनना न के बराबर होता है | यह Blood में Glucose की अधिकता तथा पेशाब में Glucose (ग्लाइकोसुरिया) से संबंधित है। इस मामले में Insulin Treatment बहुत ज़रूरी होता है।



शेयर करें

Comments

  1. By Rahul

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.