पैरों की देखभाल और खूबसूरती के लिए आसान उपाय

आमतौर पर देखा जाता है कि लोग फेस और फिगर की देखभाल तो खूब करते हैं, लेकिन हाथ-पैरों को नजरअंदाज कर देते हैं, जबकि यह गलत है। पैर हमारे शरीर का भार दिनभर उठाते हैं ,फिर भी जहां हम बाकी अंगों की देखभाल और खूबसूरती का तो पूरा ख्याल रखते हैं, वहीं अकसर पैरों की अनदेखी कर देते हैं, जबकि पैरों की देखभाल की भी उतनी ही जरुरत होती है| एक पुरानी कहावत है कि किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व की पहचान करने का और यह जानने का कि वह अपने स्वास्थ्य के प्रति कितना गंभीर है, सब से अच्छा तरीका है उस के पैरों और जूतों का मुआयना करना | इसलिए अपने चेहरे की सुंदरता के साथसाथ पैरों की सफाई और सुंदरता का भी खास ध्यान रखें और समय समय पर उन की सफाई, स्क्रबिंग और मास्चराइजिंग करती रहें|

पैरों की देखभाल के लिए टिप्स

  • प्रात:काल दौड़ लगाना व रस्सी कूदना पैरों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए एक उत्तम व्यायाम है, अत: इस व्यायाम को प्रतिदिन करने की आदत डालें।
  • साइकिल चलाने से भी आपके पैर स्वस्थ व मजबूत रहेंगे। हमेशा सामान्य तेजी से चलने की आदत डालें, यानी न तो ज्यादा तेज चलें, न ज्यादा धीरे।
  • बैठते समय अपने पैरों को कभी भी एक के ऊपर एक न रखें।
  • पैरों की देखभाल करने के लिए प्रतिदिन कुनकुने पानी में थोड़ा-सा नमक डालकर पैर डुबोएं। इससे आपको राहत महसूस होगी।
  • पैरों की देखभाल के लिए प्रतिदिन एक ही जगह खड़े होकर 10 मिनट तक जोगिंग करें। कभी भी ज्यादा ऊंची एड़ी के जूते या चपलें न पहनें।
पैरों की देखभाल foot care tips home remedies

पैरों की देखभाल

  • सीधे खड़े होकर अपना एक हाथ इस मुद्रा में लाएं कि आपकी हथेली जमीन की ओर हो और हाथ कंधे की सीध में। अब अपना पैर उठाकर हाथ से छूने की कोशिश करें। इसी प्रकार दूसरे हाथ से दूसरा पैर छूने की कोशिश करें। पांच-पांच बार यह व्यायाम करें। इससे आपके पैर सुडौल हो जाएंगे।
  • पैरों को हमेशा साफ रखें उनमें संक्रमण न होने दें।
  • पैरों की देखभाल के लिए प्लास्टिक के जूते पहनने से बचें, इनसे पैर लाल हो जाते हैं, उनमें खारिश हो जाती है तथा पैरों की उंगलियों के बीच बिवाइयां पड़ जाती हैं। बंद मुंह के जूते कम पहनें। संभव हो तो हमेशा हवादार जूते-चपल ही पहनें और हमेशा सही नाप के जूते-चपल ही पहनें।
  • बहुत देर तक ऊंची एड़ी की चप्पलें न पहनें, इससे थकान ज्यादा होती है और शरीर का संतुलन बिगड़ता है। अगर हील पहननी ही हो तो प्लेटफॉर्म हील खरीदें।
  • पैरों की देखभाल के लिए नंगे पांव हरी घास पर टहलें ।
  • लगातार कुर्सी पर बैठे रहने के कारण पैर खिंच जाते है, पैरों को क्लॉकवाइज और एंटी-क्लॉकवाइज थोड़ी-थोड़ी देर में घुमाते रहें।
  • पसीने की समस्या से बचने के लिए पैरों पर अच्छी तरह पाउडर लगाकर जूते पहनें, ऐसे पैरों के लिए खुले सैंडल ज्यादा बेहतर रहते हैं।
  • पैरों के अंदर धंसे नाखूनों की समस्या उन्हें गलत ढंग से काटने से होती है। नाखूनों को सीधा और चौड़ाई में काटें।
  • वैसे तो महिलाओ के नेल पॉलिश लगे हुए पैर अच्छे लगते हैं, पर पैरों की देखभाल के लिए बीच-बीच में नेल पॉलिश का प्रयोग बंद कर दें, ताकि नाखूनों का स्वाभाविक रंग बना रहे। नेल पॉलिश हमेशा अच्छी ब्रांड की ही खरीदें।
  • नहाते समय प्यूमिक स्टोन से पैरों की अच्छी तरह सफाई करें, ताकि कटी-फटी त्वचा उतर जाए।
  • पैरों की देखभाल के लिए नहाने के बाद कोई अच्छा-सा बॉडी लोशन या क्रीम पैरों में लगाएं।

पैरों की देखभाल के लिए घरेलू नुस्खे

  • पैरों की देखभाल के लिए जैतून के तेल में नमक मिलाकर, उससे पैरों की मालिश करें।
  • हफ्ते में एक बार कुनकुने पानी से नीबू का रस, शैपू व ग्लिसरीन डालकर पंद्रह मिनट तक पैर डुबोएं।
  • पैरों की देखभाल के लिए फुरसत के समय किसी अच्छी क्रीम या तेल से हल्के हाथों से गोलाई में पैरों की मालिश करें। थोड़ी देर में तेल त्वचा में समा जाएगा। इससे थके-हरे पैरों को आराम मिलेगा और रूखी त्वचा मुलायम बनेगी।
  • मैनीक्योर-पैडीक्योर के लिए गुनगुने पानी में शैंपू, फिटकरी व डिटॉल डालें और इसमें हाथों को 10 मिनट व पैरों को 20 मिनट डुबोकर रखें। फिर तौलिए से पोंछकर ब्रश से साफ करें। देखे यह पोस्ट – घर पर पेडीक्योर करने का तरीका और मैनीक्योर करने का तरीका |
  • अगर पैरों में पसीना ज्यादा आता हो तो गुनगुने पानी में नीबू की कुछ बूंदें डालें। इसमें पैरों को डुबोकर रखें। पन्द्रह मिनट के बाद पैरों को पोंछ लें।
  • पैरों की देखभाल के लिए थोड़ी-सी मुल्तानी मिट्टी में गुलाब जल डालकर पेस्ट बनाकर पैरों पर पतली परत लगाएं। सूखने पर धो लें।
  • मुल्तानी मिट्टी में थोड़ा-सा दही डालकर पेस्ट बनाकर पैरों में लगा लें और सूखने पर धो दें, पैर मुलायम हो जाएंगे।
  • पैरों की त्वचा ज्यादा सूखी हो तो गुनगुने पानी में कुछ बूंदें जैतून के तेल की मिलाएं। पन्द्रह मिनट तक अपने पैरों को इसमें भिगोकर रखें, फिर पोंछकर किसी अच्छी क्रीम से मालिश करें। दो चम्मच ग्लिसरीन और एक चम्मच गुलाब जल में एक चम्मच नीबू का रस अच्छी तरह मिलाएं। इस मिश्रण को एक बोतल में बंद करके रोज सोने से पहले लगाएं। इससे पैरों की देखभाल के साथ साथ त्वचा भी मुलायम बनी रहेगी।
  • आपके पैर ठंडे रहते हैं तो ऐसे पैरों की देखभाल के लिए सोने से पहले जैतून के तेल की मालिश करें।
  • चुकंदर को काटकर एड़ियों में लगाने से वे चिकनी व स्वस्थ रहती हैं।
  • पैरों की देखभाल के लिए रात को सोने से पूर्व एड़ियों को गुनगुने पानी में डेटॉल की दो-चार बूंदें डालकर कुछ समय तक पानी में पैर रखें। इससे आराम मिलता है और संक्रमन भी दूर होता है।
  • एड़ियों की नियमित सफाई से वे साफ रहती हैं। कटी-फटी एड़ियां न खुद को ही अच्छी लगती हैं, न देखने वालों को। इसलिए एड़ियों को भी साफ़ रखें |

अन्य सम्बंधित पोस्ट 

सोशल मीडिया पर इस पोस्ट को शेयर करें

Email this to someonePin on PinterestShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on Facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *