जानिए कोरोना से बचाव के लिए सब्जियों और फलों कैसे धोएं

कोरोना वायरस महामारी से बचने के लिए लोगो को ज्यादा से ज्यादा घर पर रहने तथा भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचने का सुझाव दिया गया है लेकिन कुछ चीजें ऐसी हैं, जिनके लिए लोगो को घर से बाहर निकलना ही पड़ता हैं, जैसे सब्जियाँ, दूध, दवाएँ आदि लेने के लिए। राशन के लिए सूखा सामान को तो हम एक साथ खरीदकर रख सकते हैं लेकिन सब्जियों को हर दूसरे तीसरे दिन खरीदना पड़ता है। क्योंकि सब्जियों को हम लंबे समय के लिए स्टोर करके नहीं रख सकते हैं। जो चीज सबको डरा रही है वो यह कि कहीं सब्जियों में कोरोना वायरस हुआ तो क्या होगा ? लोगों के मन में एक ही सवाल है कि सब्जी के साथ ये खतरनाक वायरस उनके घर तो नहीं पहुँच जाएगा।

लोगों के मन में यह भय होना स्वभाविक है, क्योंकि कई लोग जो इस वायरस से संक्रमित हैं, उनमें लक्षण देर से नजर आ रहे हैं। वहीं कई लोगों में तो इसके लक्षण नजर भी नहीं आ रहे हैं। हम सभी जानते हैं कि वायरस के संपर्क में आई सतहों और वस्तुओं से भी इसका संक्रमण फैल सकता है। वहीं कोरोना से संक्रमित किसी व्यक्ति से सामान खरीदते वक्त सामान के माध्यम से कोरोना वायरस आपके घर तक आ सकता है। ऐसे में फल और सब्जियों को लेकर लोगों के मन में डर जायज है। बाहर से आया कोई भी सामान आपके लिए कोरोना वायरस का खतरा लेकर आ सकता है। इसलिए बचाव के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। कोरोना से बचाव के लिए सब्जियों को कैसे धोएं की आप इस वायरस से अपना बचाव भी कर लें और फलों और सब्जियों की गुणवत्ता भी बनी रहे | कई लोग अज्ञानतावश सब्जियों और फलों को साबुन, डिटर्जेंट पाउडर या अन्य हानिकारक केमिकल से साफ़ कर रहे है जो बिलकुल गलत है और आपकी सेहत के लिए खतरनाक भी है |

क्योंकि यह वायरस बिलकुल नया है इसलिए इसके फैलाव और प्रसार पर अधिक वैज्ञानिक रिसर्च नहीं हो पाई है इसलिए हो सकता है की इस आर्टिकल दी गई जानकारियों में आगे चलकर कुछ बदलाव भी हो |

कोरोना से बचाव के लिए सब्जियों और फलों को ऐसे सेनेटाइज करें

corona me sabji kaise dhoye sanitize fruits veggie जानिए कोरोना से बचाव के लिए सब्जियों और फलों कैसे धोएं

  • बाजार से घर आकर सब्जियों और फलों को पैकेट से बाहर निकालने से पहले हाथों को सेनेटाइज (alcohol based hand sanitizer) करें या दुसरे किसी साबुन की सहायता से हाथो को 1से 2 मिनटों तक धोएं यदि आप मार्किट में हाफ बाजु की शर्ट या टी शर्ट पहनकर गए थे तो कुहनी तक हाथो को साफ़ करें । दुकान पर थैली में ही सामान लें और घर लाकर प्लास्टिक की थैली को डस्टबिन में फेंक दें |
  • इसके बाद आप टेबल, किचन शेल्फ या अन्य सतहों को साफ करें, जहाँ आपने सब्जियों से भरे पैकेट को रखा था। इसके बाद एक बार फिर अपने हाथों को अच्छे से साफ करें। बाजार जाने से किचन में आने तक आपने जिन-जिन चीजों को छुआ है, उन्हें साफ करें।
  • सब्जी के पैकेट को दाँतों के द्वारा फाड़ने या खोलने की कोशिश बिलकुल भी न करें ।
  • सीलबंद पैकेट को पहले साबुन या पानी से धो लें। दूध, ब्रेड, तेल जैसी चीजे जो ज्यादातर प्लास्टिक की पैकिंग में सील पैक होती है इनको घर लाकर पहले अच्छी तरह से धो लें यदि आपको इन्हें तुरंत इस्तमाल करना हो तो। आपको सिर्फ ऊपरी आवरण यानि प्लास्टिक की पैकिंग धोनी है अंदर का सामान नहीं |
  • कई रिसर्च के अनुसार, सब्जियों और फलों को खरीदकर लाने के बाद पैकेट को 72 घंटों के लिए एक सेफ जगह पर रख दें। जहाँ इस पैकेट को कोई छुए नहीं । यदि इसमें कोई वायरस होगा भी तो 72 घंटों में वो खत्म हो जाएगा इसके बाद इन्हें इस्तमाल करने से पहले चलते पानी के नीचे धों ले यह एकदम आसान तरीका है सब्जियों और फलो को वायरस मुक्त करने का |
  • सब्जियों या फलों को घर में ले जाने से पहले एक या दो घंटे के लिए धूप में भी रख सकते है ।

सब्जियों और फलों को साफ करते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

  • सब्जियों और फलों को हमेशा काटने से पहले धोना चाहिए। काटने के बाद फलों और सब्जियों को धोने से उनके पोष्टिक तत्व कम हो जाते है।
  • सब्जियों और फलों को चलते हुए नल के नीचे एक-एक कर रगड़कर धोएँ।
  • अगर आपके पास पानी की कमी है या बहुत कम पानी में फलों और सब्जियों को धोना चाहते हैं, तो एक आसान सा तरीका यह है कि आप एक बड़े कटोरे में पानी लें और उसमें एक चम्मच नमक मिलाएँ। अब फलों और सब्जियों को इसमें डुबोकर अच्छी तरह साफ कर लें।
  • जिन फलों सब्जियों का सेवन छिलका निकालकर किया जाता है, उन्हें भी पानी में छिलके सहित अच्छे से धोकर ही छीलना या काटना चाहिए।
  • आलू या गाजर जैसी जड़ वाली सब्जियों की सफाई करते समय, सभी गंदगी को हटाने के लिए स्पंज का उपयोग किया जाना चाहिए. खरबूजे और खीरे को साफ करने के लिए भी ब्रश का इस्तेमाल किया जा सकता है |
  • आलू, शलजम, गाजर आदि सब्जियों को गुनगुने पानी से धोएँ। इन्हें आप 5 से 10 सेकेंड के लिए नरम ब्रश से साफ करके किसी साफ कपड़े से पोंछ सकते हैं।
  • छिलका सहित खाए जाने वाले फलों को कम-से-कम एक घंटे तक पानी में भिगोकर रखें।
  • रसोई में नल चलाकर तेजी के साथ निकलते पानी में सब्जियों और फलों को धोएं. इसके बाद हाथों से रगड़कर इसे साफ करें |
  • कई एक्सपर्ट ने सब्जियों और फलों को वायरस से मुक्त करने के लिए उन्हें 5 से 10 मिनट तक सिरके वाले पानी में भिगोकर और उसके बाद अच्छी तरह से धोने की सलाह दी गई है।
  • गाजर और बैंगन जैसी सब्जियों को इमली वाले पानी के घोल से धो सकते हैं।
  • पालक, ब्रोकली, फूलगोभी, बंदगोभी जैसी सब्जियों को दो प्रतिशत साधारण नमक वाले गरम पानी से साफ करें।
  • अंडे: अंडे को साफ करने का सबसे अच्छा तरीका है कि उन्हें अच्छी तरह से चलते पानी के नीचे रखकर साफ़ करें ।
  • पैकेट और कार्डबोर्ड बॉक्स: ये अल्कोहल-आधारित sanitizer के साथ मिटाए जा सकते हैं क्योंकि आप डब्बे में मौजूद सामान को खायेंगे पैकेट तो वैसे भी आपको फेंकना ही होता है |
  • ओजोनेटेड पानी से धोने से पेस्टीसाइड को भी काफी हद तक साफ किया जा सकता है। वही बहुत सारे लोग सब्जियों को साफ करने के लिए क्लोरीन, एल्कोहल, साबुन या डिटर्जेंट का इस्तेमाल कर रहे हैं। यह सही नहीं है। ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इससे दूसरी कई गंभीर बीमारीयां होने की भी संभावना है। सब्जियों को पानी से धोना भर ही काफी है |

सब्जियों और फलों को सेनेटाइज करने के लिए घोल ऐसे तैयार करें

  • फलों और सब्जियों को कोरोना वायरस मुक्त करने के लिए नीचे बताए गए किसी एक घोल को तैयार करें | हालाँकि इसका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है की नमक, सिरका या अन्य खट्टे एसिड से कोरोना वायरस खत्म हो जाता है हाँ ऐसा करने से दुसरे कई बेक्टेरिया जरुर खत्म हो जाते है इसलिए फ़िलहाल कोरोना से बचाव के लिए सब्जियों और फलों को धोने के लिए हेल्थ एक्सपर्ट की यही सलाह है और ऐसा करने में आपकी हेल्थ को कोई नुक्सान भी नहीं होगा |
  • एक चौथाई कप सिरका या दो बड़े चम्मच नमक लें पानी में मिलाकर घोल तैयार करें |
  • एक बड़ा चम्मच नींबू का रस, दो बड़े चम्मच सफेद सिरका, एक कप पानी में मिलाकर घोल तैयार करें |
  • एक बड़ा चम्मच नींबू का रस, दो बड़े चम्मच बेकिंग सोडा, एक कप पानी मिलाकर सब्जियां धोने के लिए घोल तैयार करें। इनमें से जो भी सामान आपके पास उपलब्ध है उनमे से किसी एक घोल तैयार करने के बाद घर लाई सब्जियों और फलों पर उसका छिड़काव करें। 5 से 10 मिनट के लिए सब्जियों और फलों को छोड़ दें। इसके बाद साफ पानी से इन्हें धोएँ।
  • सिरका उपलब्ध ना हो तो इमली वाले पानी का भी इस्तमाल भी आप कर सकते है |

इन बातों का भी रखे ख्याल

  • सेवन करने से पहले अपने भोजन को अच्छी तरह से पकाएं। “कच्चे और पके हुए भोजन को अलग -अलग रखें, विशेष रूप से कच्चे मांस से खाने पीने की अन्य चीजो को दूर रखें |
  • जब आप किराने की खरीदारी के लिए बाहर होते हैं, तो दूसरों से कम से कम 1-मीटर की दूरी पर रहें और अपनी आंखों, मुंह और नाक को छूने से बचें। यदि संभव हो तो, खरीदारी से पहले शॉपिंग ट्रॉलियों या टोकरियों के हैंडल को sanitizer स्प्रे करके साफ करें, या हाथ में पोलीथिन के दस्ताने पहन कर जाएँ और घर आकर उन्हें किसी ढक्कन बंद डस्टबिन में डाल दें |
  • सप्ताह में एक या दो बार किराने की खरीदारी करनी चाहिए। घर के किसी एक सदस्य को यह जिम्मेदारी दे देनी चाहिए जो युवा हो और स्वस्थ हो |
  • Center Of Disease Control and Prevention (CDC) के अनुसार, महामारी के इस समय में घर की सफाई और कीटाणुरहित करने का विशेष ध्यान रखें। इसके लिए आप Anti bacterial phenyl या क्लीनर का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • सब्जी खरीदने जाते वक्त यदि आपने कपड़े के बैग का इस्तेमाल किया है तो घर वापस आकर इसे वॉशिंग पाउडर के साथ मशीन में वॉश करें। इसे सुखाने के बाद दोबारा इस्तेमाल में लाएँ।

सवाल जवाब 

  • किताब (book) पर कोरोना का वायरस कितने दिनों तक जिंदा रह सकता है ? – NIH की रिसर्च के मुताबिक़ SARS-CoV-2 वायरस, पेपर और गत्ते पर 24 घंटे तक ज़िंदा रहता है. जबकि प्लास्टिक और स्टील की सतह पर 2 से 3 दिन तक जिंदा रहता है | कागज पर ये वायरस कम देर तक रहता है लेकिन आप यह पता नहीं कर पाएंगे कि यह इस पर कब आया है इसलिए किताबो अख़बार आदि के प्रयोग में 48 घंटो के लिए सावधानी बरतें।

संक्षेप में:

फलों और सब्जियों को पानी से धोएं जैसा आप पहले से ही करते आ रहे है; साबुन, डिटर्जेंट, कीटाणुनाशक या किसी रासायनिक घोल में इन्हें ना धोएं । यह भी सुनिश्चित करें कि आप फलों और सब्जियों को घर लाने के तुरंत बाद ना खाएं । अभी तक कोई सबूत नहीं मिला है कि कोरोनो वायरस भोजन के माध्यम से फैल सकता है। इसलिए इस विषय पर ज्यादा घबराने की जरुरत नहीं है |

अन्य संबंधित आर्टिकल

Leave a Reply