Category: Body Care

दमा रोग (अस्थमा) का आयुर्वेदिक उपचार : श्वास रोग का घरेलू उपचार

दमा रोग (दमा रोग) तेजी से स्त्री-पुरुष और बच्चों को अपना शिकार बना रहा है। सड़कों पर कार, बसों और ट्रकों का धुआं और घरों के आस-पास फैक्ट्रियों की गैसें जब लोगों के शरीर में पहुंचती हैं तो फेफड़ों को सबसे अधिक हानि पहुंचती है। प्रदूषित …

जानिए सही मात्रा में पानी पीना क्यों है जरुरी ? तथा पानी के स्वास्थ्य वर्धक गुण

पानी को आप साधारण चीज न समझें। पानी प्रकृति का सबसे अनमोल उपहार है। पानी पीने से सिर्फ प्यास बुझाने की वस्तु मात्र नहीं है । बल्कि यह जीवनदाता है यानी इनसान की सबसे बड़ी जरूरत है। इसके बगैर जिंदा रहना मुश्किल है। हमारे शरीर में …

वजन बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए : मोटा होने के लिए डाइट प्लान

मोटा होने के लिए क्या खाना पड़ेगा ? दुबले पतले लोगो के मन में अक्सर ये सवाल उठता है क्योंकि कमजोर व दुबला पतला शरीर होने से ना सिर्फ पर्सनालिटी पर इसका खराब असर पड़ता है बल्कि कमजोर शरीर होने से बीमारियों से बचाव भी मुश्किल …

कुष्ठ रोग का आयुर्वेदिक इलाज : कुष्ठरोग उपचार

कुष्ठ रोग (लेप्रोसी) यह एक संक्रामक रोग है और इसका वाहक माइक्रोबैक्टीरियम लेप्रो नामक जीवाणु है। इस रोग के वाहक जीवाणु, त्वचा या सांस के द्वारा शरीर में प्रवेश होते हैं और इन जीवाणुओं द्वारा नसों एवं त्वचा को नुकसान पहुंचायी जाती है। कुछ समय के …

वायरल बुखार के कारण, लक्षण, बचाव और उपचार की जानकारी

वायरल बुखार बहुत संक्रामक रोग है, जिससे कोई भी व्यक्ति किसी भी समय और कहीं भी ग्रस्त हो सकता है। हालाँकि बच्चे और बुजुर्ग इसकी चपेट में अधिक आते हैं। इस बुखार वैसे तो हर मौसम में होता है, लेकिन बरसात में अधिकतर होता है, इसलिए …

मिर्गी रोग के कारण, लक्षण, सावधानियां तथा आधुनिक उपचार की जानकारी

मिर्गी रोग को संस्कृत में ‘अपस्मार’ कहते हैं, जिसका अर्थ है ‘स्मृति” चली जाना। अंग्रेजी में और चिकित्सक इसको एपिलेप्सी (Epilepsy) कहते हैं। आम भाषा में इस रोग को ‘झटके आना’ या सीजर (Seizures), फिट्स (Fits) भी कहते हैं। एपिलेप्सी न दैवी या शैतान प्रकोप है, …

पानी की कमी डिहाइड्रेशन के लक्षण, कारण तथा उपचार के नुस्खे

अगर आप पानी कम पीते हैं, अपनी व्यस्तता के कारण पानी पीना भूल जाते हैं, उलटी-दस्त, डायरिया या किसी अन्य बीमारी से जूझ रहे हैं तो समझिए कि आप डिहाइड्रेशन के आसान शिकार हैं। हमारे देश में शरीर में पानी की कमी (निर्जलीकरण ) यानि डिहाइड्रेशन …

माहवारी रुकने के कारण तथा नियमित करने हेतू खानपान के उपाय

महिलाओं में माहवारी रुकने या पीरियड से जुडी कठिनाइयाँ एक आम समस्या है | अधिकतर मामलो में माहवारी नहीं आने या माहवारी रुकने के कई कारण होते हैं, लेकिन महिलाओं को इस बात का डर बैठ जाता है कि कहीं फिर से गर्भावस्था तो नहीं हो …

जानिए क्यों जरुरी है फुल बॉडी चेकअप तथा Full Body Checkup List

फुल बॉडी चेकअप (पूरे शरीर की जांच) कराने की कोई उम्र नहीं होती, चाहे रिस्क फैक्टर हो या नहीं हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, यदि आपकी सेहत बिल्कुल ठीक है और आपको लाइफस्टाइल संबंधी कोई बीमारी नहीं है, तो भी अच्छे स्वास्थ्य के लिए आपको 25 साल …

माइग्रेन के लक्षण, कारण तथा माइग्रेन के घरेलू उपाय

अगर आपको सबसे आम एक बीमारी का नाम बताने को कहा जाए तो सबसे पहले आपके दिमाग में भी शायद सिरदर्द का ही नाम आएगा। तेज रफ्तार जिंदगी के कारण आज सिरदर्द की समस्या आम हो गई है। लंबे समय तक चलने वाला सिरदर्द आगे चलकर …

जानिए एंटीबायोटिक दवाएं क्या है और इनके अंधाधुंध सेवन के साइड इफेक्ट्स

दवाओं को दर्द दूर करने तथा रोगों के उपचार के लिए बनाया जाता है, लेकिन आजकल दवा ही दर्द का कारण बन गई है। इसकी एक मिसाल है एंटीबायोटिक दवाइयाँ, जिनके अंधाधुंध इस्तेमाल की वजह से बहुत सारे साइड इफेक्ट्स ने जन्म ले लिया है। ये …

जानिए वृद्धावस्था या बुढ़ापा क्यों आता है तथा इस दौरान शरीर में क्या बदलाव आते है

वृद्धावस्था (Old Age) शारीरिक परिवर्तनों की वजह से होने वाली एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जिसको धीमा तो जरुर किया जा सकता है पर पूरी तरह टाला नहीं जा सकता है | इस अवस्था में शरीर न तो व्यर्थ पदार्थों को ही बाहर निकालने में सक्षम होता …

आमवात (Rheumatism) के कारण, लक्षण, आयुर्वेदिक उपचार तथा आहार

आमवात रोग होने पर भोजन में अरुचि, अधिक आलस्य, बुखार, विभिन्न अंगों में सूजन, कमर और घुटनों में दर्द होता है। शरीर के दूसरे अंगों में भी सूजन और दर्द हो सकता है। आमवात की पहली अवस्था (first stage) में बच्चों में बुखार होता है । …