Category: बीमारियाँ

टाइफाइड बुखार के आयुर्वेदिक उपचार तथा इस बीमारी से जुड़े कुछ सवालों के जवाब

दूषित पानी और दूषित खाना खाने से टाइफाइड बुखार (आंत्रिक ज्वर) होता है। टाइफाइड बुखार को मियादी बुखार, मोतीझरा आदि अनेक नामों से भी जाना जाता है। टाइफाइड बुखार से पीड़ित रोगी शारीरिक रूप से बहुत कमजोर हो जाता है। यदि समय पर उचित इलाज न …

शिशु में निमोनिया के संकेत, लक्षण, कारण, बचाव तथा आधुनिक उपचार

निमोनिया क्या है ? – यह फेफड़े की बीमारी है, जो वायरस या बैक्टीरिया के संक्रमण से पैदा होती है। इसमें फेफड़े के किसी एक या अधिक भाग की कोशिकाएं सूज जाती हैं और पानी से भर जाती हैं। ऐसा होने पर ये सांस-प्रक्रिया में बाधा …

दमा (अस्थमा) रोग के कारण, लक्षण, बचाव तथा खानपान की जानकारी

आजकल प्रदूषित वातावरण होने से सांस से जुड़े रोगों में बढ़ोतरी हो रही है दमा या अस्थमा रोग भी इन्ही में से एक है। सड़कों पर वाहनों का धुआं और बस्तियों के आसपास कल-कारखानों की विषैली गैस वातावरण को इतना दूषित कर देती हैं कि कुछ …

स्वाइन फ्लू के लक्षण, कारण, जाँच, बचाव और स्वाइन फ्लू का टीका

स्वाइन फ्लू एक खतरनाक संक्रामक बीमारी है, पाँच दशक पहले अमेरिका के न्यूजर्सी में इस तरह का रोग फैला था। अभी दुनियाभर में तीन लाख के लगभग और भारत में पाँच हजार के आसपास रोगियों का पता चला है और हजारों रोगियों की मृत्यु भी इस …

अपेंडिक्स के लक्षण, कारण, बचाव तथा अपेंडिक्स में क्या खाएं

छोटी आंत (Appendix) अर्थात एक मुंह वाली आंत-10 से 15 सेंटीमीटर तक लम्बी होती है। यह बड़ी आंत के साथ मिली होती है। इसमें सूजन हो जाती है। जब अपेंडिक्स में पुराना संक्रमण हो तो यह रोग और भी गंभीर रूप धारण कर लेता है। ऐसी …

फाइलेरिया रोग क्या है ? कारण, लक्षण और बचाव की जानकारी

फाइलेरिया रोग कैसे होता है ?- फाइलेरिया (हाथीपाँव) रोग कृमियों द्वारा होता है। यह रोग प्रमुख रूप से मच्छरों की क्यूलेक्स प्रजाति द्वारा फैलाया जाता है। माइक्रोफाइलेरिया के रूप में कृमि मनुष्य के रक्त में घूमता रहता है। जब मच्छर खून चूसता है तो यह मच्छर …

दमा रोग (अस्थमा) का आयुर्वेदिक उपचार : श्वास रोग का घरेलू उपचार

दमा रोग (दमा रोग) तेजी से स्त्री-पुरुष और बच्चों को अपना शिकार बना रहा है। सड़कों पर कार, बसों और ट्रकों का धुआं और घरों के आस-पास फैक्ट्रियों की गैसें जब लोगों के शरीर में पहुंचती हैं तो फेफड़ों को सबसे अधिक हानि पहुंचती है। प्रदूषित …

कुष्ठ रोग का आयुर्वेदिक इलाज : कुष्ठरोग उपचार

कुष्ठ रोग (लेप्रोसी) यह एक संक्रामक रोग है और इसका वाहक माइक्रोबैक्टीरियम लेप्रो नामक जीवाणु है। इस रोग के वाहक जीवाणु, त्वचा या सांस के द्वारा शरीर में प्रवेश होते हैं और इन जीवाणुओं द्वारा नसों एवं त्वचा को नुकसान पहुंचायी जाती है। कुछ समय के …

वायरल बुखार के कारण, लक्षण, बचाव और उपचार की जानकारी

वायरल बुखार बहुत संक्रामक रोग है, जिससे कोई भी व्यक्ति किसी भी समय और कहीं भी ग्रस्त हो सकता है। हालाँकि बच्चे और बुजुर्ग इसकी चपेट में अधिक आते हैं। इस बुखार वैसे तो हर मौसम में होता है, लेकिन बरसात में अधिकतर होता है, इसलिए …

मिर्गी रोग के कारण, लक्षण, सावधानियां तथा आधुनिक उपचार की जानकारी

मिर्गी रोग को संस्कृत में ‘अपस्मार’ कहते हैं, जिसका अर्थ है ‘स्मृति” चली जाना। अंग्रेजी में और चिकित्सक इसको एपिलेप्सी (Epilepsy) कहते हैं। आम भाषा में इस रोग को ‘झटके आना’ या सीजर (Seizures), फिट्स (Fits) भी कहते हैं। एपिलेप्सी न दैवी या शैतान प्रकोप है, …

माहवारी रुकने के कारण तथा नियमित करने हेतू खानपान के उपाय

महिलाओं में माहवारी रुकने या पीरियड से जुडी कठिनाइयाँ एक आम समस्या है | अधिकतर मामलो में माहवारी नहीं आने या माहवारी रुकने के कई कारण होते हैं, लेकिन महिलाओं को इस बात का डर बैठ जाता है कि कहीं फिर से गर्भावस्था तो नहीं हो …

जी मिचलाने, मतली तथा सफर के दौरान उल्टी रोकने के लिए नींबू नुस्खे

कई लोगों को घूमने का शौक तो बहुत होता है पर अक्सर उन्हें यात्रा के दौरान जी मिचलाना, उल्टी के डर से कहीं घूमने फिरने में डरते हैं। वहीं, कई लोगों को पहाड़ों पर घूमने के दौरान उल्टी की समस्या होने लगती है। लेकिन अब आपको …

माइग्रेन के लक्षण, कारण तथा माइग्रेन के घरेलू उपाय

अगर आपको सबसे आम एक बीमारी का नाम बताने को कहा जाए तो सबसे पहले आपके दिमाग में भी शायद सिरदर्द का ही नाम आएगा। तेज रफ्तार जिंदगी के कारण आज सिरदर्द की समस्या आम हो गई है। लंबे समय तक चलने वाला सिरदर्द आगे चलकर …