12 प्रकार के घरेलू हर्बल शैम्पू बनाने की विधि

घरेलू और हर्बल शैम्पू बनाने की विधि जानकर न सिर्फ आप हानिकारक केमिकल युक्त उत्पादों से अपने बालो को बचा पायेंगे बल्कि धन की भी बचत होगी | प्राकृतिक घरेलू शैम्पू के कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होते है तो आप निश्चिन्त होकर इनका उपयोग कर सकते है | इस पोस्ट में बारह अलग-अलग प्रकार के घरेलू शैम्पू बनाने के तरीके बताये गये है|

प्राकृतिक घरेलू शैम्पू बनाने की विधि/ 12 Best Homemade shampoo recipes using only natural ingredients.

शैम्पू बनाने की विधि 12 Best Homemade shampoo recipes using only natural ingredients.

प्राकृतिक घरेलू शैम्पू

  • Herbal शैम्पू बनाने की विधि : रूखे बालों के लिए 200 ग्राम शिकाकाई की पत्तियां अथवा पाउडर, 200 ग्राम आंवला पाउडर तथा 100 ग्राम संतरे के सूखे छिलके लेकर रात-भर के लिए पानी में भिगोकर रख दें। सुबह इसे अच्छी तरह से उबालकर ठंडा कर लें। जब यह मिश्रण ठंडा हो जाए, तो छलनी से छानकर, एक बोतल में भरकर रख दें। जड़ी-बूटियों से तैयार किया गया यह विशेष शैम्पू बनाने में तो आसान है ही साथ ही बाजार में बिकने वाले किसी भी अन्य शैम्पू से कहीं अधिक उत्तम और गुणकारी भी है। तीन-चार हफ्तों के नियमित इस्तेमाल के बाद बालों की प्राकृतिक सुंदरता व चमक लौट आती हैं।
  • Glycerin शैम्पू बनाने की विधि : तैलीय बालों की देखभाल के लिए ग्लिसरीनयुक्त साबुन की एक टिकिया लेकर उसका पाउडर बनाकर उसे एक कप पानी में खूब उबालें। फिर ठंडा होने के लिए रख दें। ठंडा होने के बाद यह एक जैली के रूप में परिवर्तित हो जाएगा। अब इस जैली को तैलीय बालों पर दो नींबू के रस के साथ मिलाकर लगाएं। 10-15 मिनट के बाद साफ़ पानी से बाल धो लें।
  • Conditioning शैम्पू बनाने की विधि : एक-दो बड़े चम्मच कोई भी शैम्पू लेकर उसमें एक अंडा और एक बड़ा चम्मच बिना कुछ मिला Gelatin Powder मिलाएं। इस मिश्रण को धीरे-धीरे फेंटें जिससे गांठे न बनें। इसे सिर पर लगाकर सिर धो लें। इस शैम्पू से बाल घने और सुंदर बनते हैं।
  • Rosemary शैम्पू बनाने की विधि – दो चम्मच रोजमेरी की सूखी पत्तियां, आधा लीटर पानी में आधे घंटे तक उबाल लें। जब पानी ठंडा हो जाए तो पत्तियों को निकाल दें और बालों को उससे धोएं।
  • Tonic शैम्पू बनाने की विधि : ठंडे पानी में दो सौ ग्राम सूखे ऑलिव और शिकाकाई की फली मिलाकर रख दें। एक लोहे के बर्तन में रात-भर भिगोकर रखें। सुबह इसे दस से पन्द्रह मिनट तक उबालें और छान लें। बचे हुए पेस्ट को कुछ पतला करें और इससे बाल धोएं। यह बालों को सॉफ्ट और चमकदार बनाता है।
  • Herbal शैम्पू बनाने की विधि -100  ग्राम बीज निकला हुआ रीठा , 100 ग्राम सूखा आँवला (Amal) ,100 ग्राम शिकाकाई ,100 ग्राम दानामेथी मिलाकर बीस मिनटों तक उबाल लें ठंडा होने पर छानकर इसमें एक निम्बू का रस मिलाने के बाद इस्तमाल करें |
  • Alovera शैम्पू बनाने की विधि – तीन चम्मच एलोवेरा का पेस्ट लेकर इसमें दो चम्मच शहद (Honey) और दो चम्मच सेब का सिरका मिलाएं फिर इसमें झाग उठने तक मिलाएँ। अब इसमें अपनी पसंद अनुसार खुशबूदार तेल मिलाकर शैम्पू की तरह इस्तमाल करें |
  • रूखे बालों के लिए शैम्पू बनाने की विधि – बीयर, दही, चाय या बथुए के उबले पानी से सिर धोएं। बाल धोने के बाद हमेशा अपनी कंघी और ब्रश को भी साफ करें, उसके बाद अपने बालों को संवारें।
  • Panama Wood शैम्पू बनाने की विधि : 50 ग्राम पनामा वुड को थोड़े-से पानी में उबाल लें। इसे एक घंटे तक सूखने दें। अब इस पानी को छानकर प्रयोग में लाएं। यह साधारण और तैलीय बालों के लिए बहुत अच्छा रहता है।
  • सीरम शैम्पू बनाने की विधि : इसे बनाने के लिए दो अंडों की जर्दी में दो बड़े चम्मच गंधरहित Linseed oil और दो बड़े चम्मच रम मिला दें। बालों और सिर की सतह पर इसे लगाएं। इसे एक घंटे तक लगा रहने दें, फिर गर्म पानी से धो लें। यह रूसी युक्त और रूखे बालों के लिए उत्तम शैम्पू है।
  • Egg शैम्पू बनाने की विधि– एक कप रम में एक बड़ा-सा प्याज काटकर डाल दें व आठ दिन पड़ा रहने दें। आठ दिन बाद प्याज के टुकड़े रम में से निकाल दें अथवा रम छान लें। इसके बाद आठ अंडों का पीला भाग अच्छी तरह फेंटकर मिला दें व एक चम्मच लेनोलीन पाउडर मिला दें। शैम्पू तैयार है | यह भी पढ़ें – जाने घरेलू Hair Conditioner बनाने की विधि |
  • Egg शैम्पू बनाने की विधि- 2 : अंडों में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, इसलिए यह बालों के लिए भी उत्तम रहता है। एक गिलास गर्म पानी में दो अंडों को फेंटकर छान लें। अब इसे एक घंटे तक बालों और सिर की सतह पर लगा रहने दें।

शैम्पू के उपयोग से सम्बन्धित अन्य टिप्स

  • अगर आपके बालों में शैम्पू की सख्त जरूरत है और शैम्पू खत्म हो गया है, उस पर आपके पास इतना समय भी नहीं कि बाजार से खरीद लाएं तो घबराएं नहीं। हमारे द्वारा बताए टिप्स से आपको बाल गीले भी नहीं करने पड़ेंगे और समय भी कम लगेगा, इसके लिए है Energy Shampoo कोई पुराना स्टॉकिंग लेकर उसे बाल काढ़ने वाले ब्रश के ब्रसल्स पर चढ़ा दें। अब किसी हेयर hair freshener या conditioner को ब्रसल्स पर डालकर बाल ब्रश करें।
  • बालों को रंगने या पर्म करवाने के बाद सामान्य शैम्पू प्रयोग में न लें क्योंकि ऐसे बालों के लिए खास प्रकार के शैम्पू आते हैं।

अन्य सम्बंधित लेख 

सोशल मीडिया पर इस पोस्ट को शेयर करें

Email this to someonePin on PinterestShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on Facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *