Face Care Archive

कच्चे दूध और मलाई से चेहरा निखारने के 36 उपाय

क्या आप जानते हैं ? दूध शक्तिवर्धक होने के साथ-साथ सौंदर्यवर्धक भी होता है। आजकल ज्यादातर लोग केमिकल से बने रेडीमेड ब्यूटी प्रोडक्ट्स का उपयोग करते है और प्राकृतिक चीजों से विमुख हो उसका उपहास भी करते है। अगर घर में दूध मौजूद है, तो कॉस्मेटिक्स के महँगे साजो-सामान की जरूरत क्या है ? दूध

ब्लीच करने का तरीका और ब्लीचिंग के फायदे तथा नुकसान

त्वचा का खोया हुआ आकर्षण पाने के लिए ब्लीच करना ठीक रहता है। सर्दियों की तीखी हवा हो या गर्मियों की झुलसा देने वाली धूप, इनके दुष्प्रभाव के कारण त्वचा का रंग खराब हो जाता है। जहाँ ब्लीचिंग से धूप में झुलसी हुई अथवा खुश्क हवा दबी हुई त्वचा निखरती है, वहाँ चेहरे पर उगे

पिंपल्स हटाने के लिए घरेलू उपाय

पिंपल्स और कील -मुंहासों की शुरुआत प्रायः किशोरावस्था में ही होती है। पिंपल्स के कारण – इसकी मुख्य वजह यह है कि किशोरावस्था में त्वचा में चिकनाई पैदा करने वाली ग्रंथियां सक्रिय हो जाती हैं या फिर अनियमित रूप से काम करने लगती हैं। इन ग्रंथियों से तेल निकलकर रोमकूपों में इकट्ठा हो जाता है

गर्मियों में चेहरे की देखभाल के लिए टिप्स-Face & Skin Care in Summer

हमारे देश में वर्ष-भर में छः ऋतुएं आती हैं। इनमें गर्मियां (summer season) ही ऐसी है जिसमें चेहरे और त्वचा की सबसे ज्यादा देखभाल करनी पड़ती है। इस मौसम में पसीने की वजह से मेकअप बह जाता है,  शरीर से दुर्गध आने लगती है तथा त्वचा झुलसने लगती है। गर्मियों के धूल और पसीने से

झाइयां दूर करने के घरेलू उपाय -Jhaiya On Face

चेहरे के काले दाग धब्बे और झाइयां होने से त्वचा के रंग में एक प्रकार की असमानता दिखनी शुरू हो जाती है। त्वचा पर गहरे कत्थई, काले रंग के धब्बे हो जाते हैं। त्वचा का रंग कभी हल्का तो कभी गहरा हो जाता है। दाग का आकार भी घटता-बढ़ता रहता है। त्वचा में आई इसी

डबल चिन के कारण और ठीक करने के व्यायाम

Double Chin यानी दोहरी ठोड़ी चेहरे का सौंदर्य और आकर्षण को नष्ट कर देती है इसके कारण पूरा व्यक्तित्व प्रभावहीन नजर आता है। डबल चिन की समस्या उत्पन्न होने पर परेशान होने की बजाय धैर्यपूर्वक इस समस्या के उत्पन्न होने के कारण का पता लगाकर, इसे दूर करने के उपाय करने चाहिए। चेहरे के सौंदर्य

एलोवेरा से हटाएं चेहरे की झुर्रियाँ, पिम्पल

एलोवेरा (ग्वारपाठा) त्वचा पर जादू की तरह काम करता है इसीलिए कॉस्मेटिक्स या सौन्दर्य उत्पादों में एलोवेरा का इस्तमाल बहुत बड़ी मात्र में किया जाता है क्योंकि एलोवेरा में पाए जाने वाले दो रासायनिक तत्व Polysaccharides और Lignin त्वचा की तीनो परतो में जाकर बैक्टीरिया और फालतू ऑइल को त्वचा से बाहर निकाल देता है