Fruit & Veggie Archive

काली मिर्च के 35 औषधीय गुण तथा फायदे

काली मिर्च का इस्तेमाल घरों में सब्जियों व पकवानों को स्वादिष्ट बनाने के लिए किया जाता है। मगर क्या आप जानते हैं की आयुर्वेद में काली मिर्च का इस्तेमाल विभिन्न रोग-विकारों की दवाइयां बनाने में किया जाता हैं। काली मिर्च के गुणों से परिचित होने के बाद बहुत सारे लोग घरेलू औषधि के रूप में

जानिए 6 स्वादिष्ट भरवां सब्जी बनाने की आसान विधि

भरवां सब्जियों का स्वाद परम्परागत कुकिंग से कुछ अलग ही होता हैं. अगर आपका मन भी भरवां सब्जी बनाने का कर रहा है यहाँ बताई हुई विधि से बनाकर देखिये ये काफी स्वादिष्ट बनती हैं | इस पोस्ट में 6 अलग-अलग तरह की भरवां सब्जियों को बनाने की रेसेपी बताई गई है | जिसमें- परवल,

लहसुन खाने के फायदे और 12 बेहतरीन औषधीय गुण

लहसुन (Garlic) एक शक्तिशाली प्राकृतिक एण्टीबायोटिक, एन्टी-फंगल, और एन्टी बैक्टीरियल हर्ब है। यह आंतों, साँस व फेफड़ों, पेट की गैस, पेट के कीड़े, कफ त्वचा के रोग, बुखार, कील-मुंहासे, रक्त की कमी, कमर-दर्द, हड्डियों के रोग, मस्तिष्क के रोग, हृदय रोग, कब्ज, घाव, उम्र के साथ होने वाले शारीरिक परिवर्तनों को कम करने आदि सभी

तुलसी के फायदे और 25 बेहतरीन औषधीय गुण

तुलसी (Basil) भारत में पवित्र पौधे के रूप में प्रसिद्ध है। यह झाड़ीनुमा पौधा है जिसमें शाखाएं खास तरह की सुगंध वाली होती है। वैदिक युग से इस पौधे के औषधीय गुणों की बात की जाती रही है। इस पौधे की पत्तियां और बीज दोनों ही औषधीय गुण रखते हैं इसलिए तुलसी के बीज का

जामुन के फायदे और 25 बेहतरीन औषधीय गुण

जामुन की तासीर ठंडी होती है और इसकी कई देसी विदेशी किस्मे होती हैं | लेकिन सबके धर्म, गुण समान हैं। जामुन का अंग्रेजी नाम – Java Plum और Blackberry है | जामुन से भूख बढती है और भोजन पचाती है, शरीर से गंदगी बाहर निकलती है। जामुन नहीं होने पर इसका सिरका काम में

एलोवेरा जूस बनाने की विधि और फायदे -Aloe Vera Juice Recipe

आयुर्वेद में एलोवेरा जूस को प्राकृतिक गुणों का भंडार कहा गया है। संस्कृत में घृतकुमारी के नाम से मिलने वाले ग्वारपाठे का आयुर्वेद में पुमासिन और कन्यालोतादि वटी के रूप में वर्णन आया है। एलोवेरा का गूदा औषध बनाने के लिए प्रयुक्त होता है। यह दिखने में जेली जैसा , लसीला, चमकीला द्रव पदार्थ होता

करेले के जूस के 21 फायदे तथा जूस बनाने की विधि

करेले के जूस और करेले (Bitter Gourd ) के औषधिय गुणों को भारतीय होम्योपैथिक में भी सराहा गया है इसीलिए “Momordica charantia” होम्योपैथिक औषधि का मूल तत्व करेला ही है। हरा करेला पके हुए सफेद पीले रंग के करेले की अपेक्षा ज्यादा लाभदायक है इसलिए हमेशा हरे रंग के करेले का ही उपयोग करना चाहिए

Lauki Soup लौकी की खिचड़ी और तेल बनाने की विधि

Lauki Soup या घिया का सूप बहुत स्वादिष्ट और सेहत के लिए बहुत गुणकारी होता है | “लौकी के बेहतरीन गुण” नाम से प्रकाशित पिछले पोस्ट में हमने लौकी के लगभग 29 औषधीय गुणों को बताया था और साथ ही यह भी बताया था की एक बहुत बड़ा वर्ग लौकी को और सब्जियों की अपेक्षा

लौकी जूस के बेहतरीन 29 औषधीय गुण

लौकी का रस या (Lauki Juice) के बेहतरीन औषधीय गुणों का जानने से पहले हम एक नजर लौकी के परिचय पर डालते है |  लौकी– “Cucurbitaceae Family” से सम्बंधित पौधे का फल होता है। भारत में लौकी को घीया, कद्दू , दूदी,और दुधी भोपळा भी कहते हैं। इसका Botanical Name : “Lagenaria siceraria” है| और इसको

नीम के बेहतरीन औषधीय गुण-सौन्दर्य के लिए

नीम के पेड़ का उपयोग न सिर्फ आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धती में बल्कि विश्व की अन्य चिकित्सा प्रणालियों में बहुत पहले से उपयोग के कई प्रमाण मिले है | आज के इस आधुनिक युग में जहां दवाइयों-रसायनों आदि का प्रयोग दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है| नीम का वृक्ष आधुनिक युग में भी हमारे लिए एक वरदान