हाई ब्लड प्रेशर कम करने वाले 13 फल-सब्जियां

हाई ब्लड प्रेशर कम करने वाले फल, सब्जियां और हर्ब्स – उच्च रकतचाप (High Blood Pressure) को साइलेंट किलर या खामोश मौत का नाम दिया जाता है। यह दिल के स्वास्थ्य को बनाए रखने या बिगाड़ने का सबसे बड़ा कारण है। दिल धड़कने के दौरान रक्त के दबाव को सिस्टोलिक रक्तचाप कहा जाता है और दो धड़कनों के बीच के रक्तचाप को डाईस्टोलिक रक्तचाप कहा जाता है। 120/ 70 का रक्तचाप सामान्य माना जाता है, यह 140/90 तक भी जा सकता है। इस सीमा में निचली रीडिंग ठीक होती है। 140/90 से 160/95 को सीमा रेखा पर माना जाता है। 160/96 से 180/114 को बढ़ा हुआ रक्तचाप तथा इससे अधिक को खतरे का सूचक माना जाता है। पिछले पोस्ट में हाई बीपी के कारण लक्षण को बताया था  |

भोजन भी अक्सर ब्लड प्रेशर को प्रभावित करता है। हम कैसा खाना खाते हैं, इससे भी ब्लड प्रेशर बढ़ या घट सकता है। इसलिए व्यक्ति को ऐसा भोजन लेना चाहिए जो उसके रक्तचाप को कम रख सके। इस पोस्ट में ऐसे ही कुछ फल, सब्जी और हर्ब्स के बारे में विस्तार से बताया गया है जो हाई ब्लड प्रेशर कम करने में आपकी मदद करेंगे | अगर आप हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझ रहे है तो आज से ही इन्हें अपनी डाइट में इनको अवश्य शामिल करें |

13 fruits and vegetables help you to lower your blood Pressure :

हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए अजमाए अजवायन को :

13 fruits and vegetables help you to lower your blood Pressure हाई ब्लड प्रेशर कम करने वाले 13 फल-सब्जियां

हाई ब्लड प्रेशर कम करने वाले फल और सब्जियां

  • हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए अजवायन का उपयोग आयुर्वेद और अन्य पुरानी चिकित्सा प्रणाली में बहुत पहले से होता आया है।
  • अजवायन तनाव उत्पन्न करने वाले हारमोंस जो रक्त की नलियों को सिकोड़ देते हैं उन हारमोंस को कम करता है| इसलिए अजवायन को उन रोगियों के लिए बहुत ही उपयोगी बताया है जिनका रक्तचाप मानसिक तनाव के कारण बढ़ता है।

हाई ब्लड प्रेशर कम करने में उपयोगी है खीरा :

  • खीरा एक संतुलित आहार है, जिसमें ताजगी देने और शरीर को ठंडक देने वाले गुण होते हैं। इस सब्ज़ी में स्वास्थ्य के लिए आवश्यक लगभग सभी तत्व होते हैं।
  • खीरा हाई ब्लड प्रेशर कम करने में सहायता करता है। उच्च रक्तचाप के उपचार में खीरे का रस लाभदायक पाया गया है।
  • खीरे के रस को एक गिलास में दो चम्मच शहद और एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर दिन में दो बार लिया जा सकता है। यह शरीर को अंदर से साफ़ करते हुए उच्च रक्तचाप को कम करता है।

हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए लहसुन के औषधीय गुण :

  • लहसुन दिल की बीमारियों और रक्तचाप को कम करने के लिए उपयोग में लाई जा रही एक औषधि है।
  • इसे चीन में भी पुराने समय से हाई ब्लड प्रेशर कम करने वाली दवा के रूप में किया जाता रहा है और आज के समय में जर्मनी में इसका उपयोग इसके लिए किया जा रहा है।
  • लहसुन के विशेष गुण तनाव कम करने में मदद करते हैं जिससे रक्तचाप कम हो जाता है।
  • लहसुन हृदय गति को सामान्य करता है और सांस की तकलीफ, शिथिलता महसूस होना, अंग सुन्न पड़ना आदि लक्षणों को खत्म करता है, साथ ही पेट की गैस को भी समाप्त करता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए लहसुन की दो या तीन कलियां नियमित रूप से ली जानी चाहिए।
  • लहसुन के रस का प्रभाव ज्यादा होता है। कच्चा लहसुन अधिक फायदेमंद होता है मगर परीक्षण से सामने आया कि कचा और पकाया गया लहसुन दोनों ही समान प्रभाव रखते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें यह लेख – लहसुन खाने के फायदे और 12 बेहतरीन औषधीय गुण |

आंवला :

  • विटामिन सी की प्रचुर मात्रा होने से आंवला भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने में मदद करता है।
  • एक चम्मच ताजे आंवले का रस शहद के साथ मिलाकर सुबह लेने से रक्तचाप के इलाज में मदद मिलती है। विटामिन सी (नींबू इसका बहुत बड़ा स्रोत है ) का अधिक उपयोग रक्तचाप के इलाज में बड़ा ही उपयोगी पाया गया है।
  • विटामिन सी से भरपूर फल थोड़ी मात्रा में लेने से भी रक्तचाप से बचाव होता है।
  • उम्रदराज़ लोग जो रोज़ चार संतरे के बराबर विटामिन सी लेते हैं उनमें हाई बीपी की शिकायत कम पाई जाती है।
  • इसलिए यदि किसी युवा व्यक्ति को उच्च रक्तचाप की शिकायत है तो उसे रोज़ एक संतरे की मात्रा के बराबर विटामिन सी अवश्य लेना चाहिए। फल और सब्ज़ियों में विटामिन सी के अलावा जो अन्य चीजे भी होती हैं, वे भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने में मदद करते हैं। आंवले के अलावा नींबू , खड़े फल, हरी सब्ज़ियां, अंकुरित चने विटामिन सी के अच्छे स्त्रोत हैं।

सेब भी है हाई ब्लड प्रेशर कम करने वाला फल :

  • सेब भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने में उपयोगी होता हैं। ये डाईयूरेटिक प्रभाव उत्पन्न करते हैं जिसके कारण किडनी द्वारा सोडियम क्लोराइड के पैदा की मात्रा कम हो जाती है। साथ ही इसमें मौजूद पोटेशियम सोडियम की मात्रा कम करता है जिससे रक्तचाप कम करने में मदद मिलती है।

अजमोद भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने वाला फल होता है :

  • अजमोद में विटामिन और लवण अधिक मात्रा में होते हैं। इसमें एस्काबिंक अम्ल की मात्रा अधिक होती है अत: यह शरीर की सफ़ाई का काम करती है।
  • कच्चे अजमोद का रस हाई ब्लड प्रेशर कम करने में बहुत सहायक होता है।
  • इसे पानी में थोड़ी देर उबालकर चाय की तरह लिया जा सकता है। इसके अलावा इसकी पत्तियों के रस का भी सेवन किया जा सकता है।

आलू :

  • आलू, खासतौर से उबला हुआ आलू रक्तचाप को कम करने के लिए महत्वपूर्ण है।
  • छिलके के साथ उबाले जाने पर आलू नमक की बहुत कम मात्रा खींचता करता है इसलिए यह नमक रहित आहार का काम कर सकता है, क्योंकि रक्तचाप के मरीज़ों को कई बार बिना नमक वाला खाना लेने के लिए कहा जाता है। इसलिए यह एक आदर्श भोजन बन जाता है |
  • आलू में पोटेशियम काफी होता है मगर सोडियम नहीं होता। इसमें उपस्थित मैग्रीशियम भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने में सहायक होता है।

हाई ब्लड प्रेशर कम करने में सर्पगंधा के गुण :

  • सर्पगंधा की सूखी हुई जडे जिनमें छाल उपस्थित रहती है, उसी में अधिकांश औषधीय गुण मौजूद रहते हैं।
  • यदि इन जड़ों को चार से पांच वर्ष पुराने पौधे से सर्दी के मौसम में लिया गया हो तो और भी बढ़िया रहता है।
  • सर्पगंधा हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए बढ़िया औषधियों में से एक है और इसे अधिकांश देशों में विशेषत: अमेरिका में इसे एक औषधि के रूप में मान्यता दी गई है।
  • इस औषधि में उपस्थित एल्केलॉयड जो हाई ब्लड प्रेशर कम करने में मदद करता है, इसे अनेक दवा कंपनी दवा बनाने के काम में लेती है।
  • आयुर्वेदिक चिकित्सक इसकी जड़ को सुखाकर चूर्ण के रूप में लेने की सलाह दी जाती हैं। इस चूर्ण को आधे चम्मच की मात्रा में दिन में तीन बार लेने से उच्च रक्तचाप कम करने में मदद मिलती है।
  • इसकी जड़ का 12 से 20 डेसी ग्राम चूर्ण न केवल मस्तिष्क को शांत करता है बल्कि हाई ब्लड प्रेशर को भी कम करता है।

चावल

  • चावल में वसा, कोलेस्ट्रॉल और लवण की मात्रा कम होती है। यह उच्च रक्तचाप के उन मरीजों के लिए आदर्श आहार है जिन्हें आहार-विहार में खास परहेज बताया गया हो।
  • भूरे (ब्राउन ) चावल में उपस्थित कैल्शियम उच्च रक्तचाप के लक्षणों को दूर करता है।

तरबूज के बीज भी उपयोगी है हाई ब्लड प्रेशर कम करने में :

  • तरबूज के बीज हाई ब्लड प्रेशर कम करने में सहायता करते हैं। ये उच्च रक्तचाप से शरीर की सुरक्षा के लिए रक्षा कवच प्रदान करते हैं। जाने-माने चिकित्सक डॉ. फास्टर के अनुसार चीन के लोगों द्वारा तरबूज के बीजों का अत्यधिक प्रयोग किया जाना उनके कम रक्तचाप का कारण है।
  • चीनी लोग इन बीजों को सुखाकर भून लेते हैं और उन्हें नियमित रूप से खाते हैं। हाल ही के एक प्रयोग में तरबूज के बीज से एक पदार्थ निकाला गया जो रक्त की नलियों को फैलाता है जिससे रक्तचाप कम होने में मदद मिलती है।
  • तरबूज के बीजों में कुकुरबोट्रीन नामक ग्ल्यूकोसाइड होता है। इन बीजों को पीसकर इनके दूधिया रस को छानकर उपयोग में लाया जाता है। इसका प्रयोग हाई ब्लड प्रेशर कम करने और अन्य बीमारियों को ठीक करने के लिए भी किया जाता है।
  • इसमें कुछ बादाम और खसखस मिलाकर पीसने से यह औषधि और भी ज्यादा असरदार हो जाती है। इसमें स्वाद के लिए शहद भी मिलाया जा सकता है। इस दूध का नियमित उपयोग करने से धमनियों को संकुचित (Heart Artery Blockage) होने से बचाया जा सकता है।

जैतून का तेल :

  • उच्च रक्तचाप के इलाज में जैतून के तेल का उपयोग भी फायदेमंद पाया गया है।
  • तीन चम्मच जैतून का तेल नियमित रूप से लेने से रक्तचाप में कमी होती है।
  • जैतून के तेल में उपस्थित मोनो सेचुरेटेड फैट्स हाई बीपी और कालेस्त्रोल को नही बढने देता है | यह भी पढ़ें – दिल की बीमारी से बचाव के उपाय-Heart Disease Prevention.

Alfalfa Seeds

  • अल्फ़ा अल्फ़ा के बीजो को कई तरीकों से इस्तेमाल में लाया जा सकता है। इसके बीज अंकुरित करके खाए जा सकते हैं। ये सलाद, सूप और सैंडविच का स्वाद बढ़ाते हैं। हाई ब्लड प्रेशर कम करने के इसके गुणों का लाभ उठाने के लिए इसकी पत्तियों का रस भी उपयोग में लाया जा सकता है। इसकी पत्तियों और बीजों को उबालकर हर्बल चाय के रूप में भी लिया जा सकता है।

बलडवॉर्ट

  • ब्लडवार्ट एक कड़वा, सुगन्धित, शान्तिदायक और टॉनिक के गुण रखनेवाला हर्ब है। इसे खाने के बाद काफी पसीना आता है। यह शाक रक्तचाप के उपचार में उपयोगी होती है। इसे काढ़े के रूप में लिया जाना चाहिए।

हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए खाएं पोटेशियम की अधिकता वाले फल और सब्जियां :

  • ऐसे भोजन जिनमें पोटेशियम अधिक मात्रा में होती है, वे भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने में उपयोगी पाए गए हैं। पोटेशियम उच्च रक्तचाप के लिए एक ताकतवर दवा है।
  • अपने खाने में आप पोटेशियम की मात्रा बढ़ाकर आप हाई ब्लड प्रेशर को कम कर सकते है | अगर आपके खाने में पोटेशियम की मात्रा कम है तो आपका रक्तचाप बढ़ सकता है। पढ़ें यह भी – हृदय रोग -कारण लक्षण और बचाव |
  • पोटेशियम अधिकतर भोज्य पदाथों में पाया जाता है। जैसे सब्जियों विशेषत: हरी पत्तेदार सब्ज़ियों, अंगूर, संतरा, नींबू, किशमिश, साबुत अनाज, सूरजमुखी के बीज, अखरोट, दूध, पनीर और छाछ में पोटेशियम बहुत होता हैं।

हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए खाएं कैल्शियम की अधिकता वाले फ़ूड आइटम :

  • कई विशेषज्ञ ऐसा मानते हैं कि उच्च रक्तचाप की शिकायत (नमक) सोडियम की अधिकता की अपेक्षा कैल्शियम की कमी से होती है। कैल्शियम के अधिक सेवन हाई ब्लड प्रेशर कम करने में आपकी मदद कर सकता है।
  • कुछ लोगों को अन्य लोगो की अपेक्षा अधिक कैल्शियम की ज़रुरत होती है जिससे उनका रक्तचाप सामान्य रह सके। और वे ऐसे लोग होते हैं जिनका रक्तचाप अधिक नमक खाने से बढ़ता है |
  • ऐसे लोग जो अधिक मात्रा में सोडियम (नमक) लेते हैं, उनमें पानी की मात्रा अधिक बनी रहती है। ऐसे में कैल्शियम यूरिन में बढ़ोतरी करके सोडियम और पानी को बाहर निकालकर हाई ब्लड प्रेशर कम करने का काम करता है।
  • दूध और दूध के उत्पादों में कैल्शियम पाया जाता है। इसके अलावा हरी पत्तेदार सब्ज़ियां भी कैल्शियम का स्त्रोत होती हैं।

सब्जियों का जूस भी मददगार है हाई ब्लड प्रेशर कम करने में :

  • कच्ची सब्ज़ियों विशेष तौर पर गाजर और पालक का रस हाई ब्लड प्रेशर कम करने में बहुत ही उपयोगी होता है। इसे आप एक सब्जी के जूस के रूप में या कई अन्य सब्ज़ियों को मिलाकर भी पी सकते है।
  • अगर आप गाजर के जूस को अगर अन्य सब्ज़ियों के जूस के साथ मिलाकर लेना चाहते है तो उसमें 300 मिली गाजर का रस और 200 मिली पालक के रस को मिलाना चाहिए। गाजर के सभी गुण जानने के लिए पढ़ें यह लेख  –गाजर के फायदे और 20 बेहतरीन औषधीय गुण |

फल और सब्जियां क्यों हाई ब्लड प्रेशर कम करने में मदद करती है ?

  • फल और सब्ज़ियों से युक्त आहार हाई ब्लड प्रेशर कम करने में उपयोगी है यह तो आप समझ ही गये होंगे, पर ऐसा क्यों है ? दरअसल यह सामान्यत: देखा गया है कि मांसाहारी लोगों की तुलना में शाकाहारी लोग रक्तचाप की समस्या से कम ग्रस्त होते हैं। हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के सहायक प्राध्यापक फ्रैंक एम. सैक्स, एम.डी. के अनुसार फल और सब्ज़ियों में कुछ ऐसे पदार्थ होते हैं जिनमें रक्तचाप कम करने की शक्ति होती है। वे फलों में उपस्थित रेशों ( फाईबर्स ) को इनमें से एक मानते हैं।
  • फलों में उपस्थित रेशे सब्ज़ियों के रेशों की तुलना में हाई ब्लड प्रेशर कम करने में ज्यादा उपयोगी होते हैं।
  • फल और सब्ज़ियों का दूसरा लाभ यह है कि इनमें उपस्थित एंटी आक्सीडेंट पदार्थ प्रोस्टासाइक्लिन नामक हारमोन को बढ़ाते हैं जिससे रक्त वाहिकाएं फैलती हैं और रक्तचाप कम हो जाता है।
  • इसके साथ ही फल और सब्जियों में विटामिन सी अधिक मात्रा में पाया जाता है जिसे हाई ब्लड प्रेशर कम करने में उपयोगी पाया गया है।
  • इन सबके अलावा अन्य फल सब्जियां जैसे लौकी यानि घिया, लाल चुकंदर, जई का आटा (Oatmeal), केला, Salmon Fish, पिस्ता आदि भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने में सहायता करते हैं | पढ़ें यह पोस्ट – ह्रदय रोग में लौकी के बेहतरीन फायदे |

अन्य सम्बंधित लेख 

 

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*